बीजेपी नेता के विवादित बोल, मुंह में लट्ठ ठूंसकर जय श्री राम के नारे लगवाएंगे

भूपेंद्र शर्मा, आगरा (28 अप्रैल): बीजेपी के बेलगाम नेता सोनू चौधरी आगरा में बीजेपी युवा मोर्चा के अध्यक्ष हैं। बवाल के लिए कुख्यात इस नेता ने सोनू ने एक बार फिर से भड़काऊ बयान दिया है। इस नेता ने इस बार कानून और प्रशासन को खुली धमकी दी है। सोनू का कहना है कि वो पुलिसवालों को मुंह में लट्ठ घुसेड़कर जय श्रीराम बुलवाएंगे।


उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने लाठी चार्ज किया, जिन जिन लोगों ने हिंदू कार्यकर्ताओं या हिंदू भाइयों के साथ बदतमीजी की है। जिन्होंने जय श्री राम का नारा बोलने वालों के मुंह में लट्ठ घुसेड़े। अगर जरूरत पड़ी तो हम लोग भी उनके मुंह में लट्ठ घुसेड़ेंगे और जय श्री राम के नारे लगवाएंगे।


बीजेपी का ये नेता यहीं नहीं रूका और उन्होंने आगे कहा कि किसी भी प्रकार से किसी भी हिंदू कार्यकर्ता पर अमानवीय कृत्य नहीं होने दिया जाएगा, जिन पुलिसकर्मियों ने किया है, उनको सजा मिलेगी। ऐसा मुख्यमंत्री जी आश्वासन देकर गए हैं। मैं प्रशासन को चेतावनी देता हूं कि समाजवादी पार्टी की मानसिकता को बदल लें, अब बीजेपी की सरकार है। जय श्री राम बोलने वालों की सरकार है ये सोचकर पुलिस प्रशासन आगे की कार्रवाई करे।


कुछ दिनों पहले बीजेपी कार्यकर्ताओं ने आगरा के सदर थाने में पुलिसवालों की पिटाई कर दी थी। मारपीट के आरोप में पुलिस ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया था। सोनू चौधरी इसी बात से नाराज है। अब वो कैमरे पर खुलेआम कह रहा है कि अगर पुलिस ने जय श्री राम बोलने वालों को रोकने की कोशिश की तो वो अंजाम भुगतने को तैयार रहें।


दरअसल-बुधवार को योगी सरकार ने 84 आईएएस और 54 आईपीएस अफसरों का ट्रांसफर कर दिया था। इसमें आगरा के एएसपी और एसपी सिटी भी शामिल हैं। सोनू का दावा है कि ये तबादला उसी के शिकायत के बाद हुआ है।


साफ है कि यूपी में सरकार आते ही बीजेपी के नेता बेलगाम हो चुके हैं। उनपर सीएम योगी की नसीहतों का असर नहीं पड़ रहा है। वो खाकी को खुलेआम आंख दिखा रहे हैं। सवाल ये है कि बीजेपी अपने बिगड़ैल नेताओं पर कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है?