''यूपी चुनावों में राम मंदिर नहीं होगा मुद्दा''

नई दिल्ली (29 मई): केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने कहा कि बीजेपी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में राम मंदिर को मुद्दा नहीं बनाएंगे। पार्टी के नेता राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण राज्य में चुनावों को ‘विशेष कार्य के रूप में देख रहे हैं जिसे पूरा करना है।’ प्रचार के दौरान बीजेपी का मुख्य मुद्दा विकास, अच्छा प्रशासन और भ्रष्टाचार को खत्म करना होगा न कि राम मंदिर।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण लाखों लोगों की इच्छा है। हम इसे राजनीतिक मुद्दा नहीं बनाना चाहते। यह हमारे राजनीतिक एजेंडा में शामिल नहीं है। लेकिन इस देश के लोग अयोध्या में राम मंदिर चाहते हैं। हम इसे या तो सर्वसम्मति से या अदालत के फैसले के आधार पर करना चाहते हैं। उन्होंने विश्वास जताया कि बीजेपी को उत्तरप्रदेश में 403 सीटों में से 265 सीटों पर जीत मिलेगी।

यह पूछने पर कि विधानसभा चुनावों में क्या बीजेपी किसी दल से गठबंधन करेगी, शर्मा ने कहा कि हम किसी भी दल से गठबंधन नहीं करेंगे चाहे लोक दल (आईएनएलडी) हो या कोई और पार्टी। किसी भी तरह का चुनाव से पहले या चुनाव बाद का गठबंधन नहीं होगा। यह पूछने पर कि अगर पार्टी राज्य में सत्ता में आती है तो क्या वह मुख्यमंत्री पद की दौड़ में हैं, उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी का नेतृत्व जो भी जिम्मेदारी तय करेगा उसे निभाने के लिए मैं तैयार हूं।