चुनाव में ही भाजपा को याद आते हैं राम: राजीव शुक्ला

नई दिल्ली ( 28 जनवरी ): कांग्रेस सांसद राजीव शुक्ला ने शुक्रवार को कहा कि भाजपा ने राम मंदिर के नाम पर सिर्फ लोगों को गुमराह किया है। चुनाव आते ही पार्टी को भगवान राम याद आते हैं और बाद में उन्हें भूल जाती है। राम मंदिर का मुद्दा उठाकर भाजपा सर्वोच्च न्यायालय का अपमान कर रही है। भाजपा सांसद विनय कटियार द्वारा प्रियंका गांधी पर की गई टिप्पणी से नाराज राजीव शुक्ला ने कहा कि प्रियंका को लेकर भाजपा में बहुत घबराहट है, जब प्रधानमंत्री भी सबका मजाक बनाते हैं तो कटियार का क्या कहना! यह भाजपा का अहंकार है।

उन्होंने कहा कि प्रियंका के आने से यूपी में निश्चित रूप से फर्क पड़ेगा। वह पार्टी और गठबंधन के प्रचार के लिए आती हैं तो बहुत अच्छी बात होगी और उसका पार्टी को बहुत फायदा मिलेगा।

भाजपा नेता विनय कटियार की टिप्पणी पर किए सवाल पर उन्होंने कहा कि जितने भाजपा वाले प्रियंका का मजाक बना रहे हैं, उतना ही प्रियंका मजबूत होंगी। इसका मतलब भाजपा में बहुत घबराहट है, इसलिए बीजेपी वाले उनका मजाक बनाने की कोशिश कर रहे हैं।

राजीव शुक्ला ने कहा कि भाजपा के लोग राम मंदिर का मुद्दा यह 24 साल से उठा रहे हैं। वाजपेयी सरकार पांच साल रही, उस दौरान किया कुछ नहीं। तीन बार प्रदेश में सरकार बना चुके, लेकिन राम मंदिर के लिए कुछ नहीं किया। जैसे ही चुनाव आते हैं, उन्हें भगवान राम याद आ जाते हैं, जहां चुनाव खत्म हो जाते हैं, वे राम को भूल जाते हैं। उन्होंने कहा कि नोटबंदी कर बेकसूरों को सजा देने वाली पार्टी इस चुनाव में भगवान के भरोसे ही है, सताए हुए लोग सबक सिखाकर रहेंगे।