मोदी के खिलाफ नफरत को आधार बनाकर आपस में जुड़ रहे हैं SP-BSP: नितिन गडकरी

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली (12 जनवरी):  मिशन 2019 के मद्देनजर दिल्ली के रामलीला मैदान में हो रही बीजेपी की दो दिवसीय राष्ट्रीय परिषद की बैठक का आज दूसरा दिन है। बैठक में हिस्सा लेने के लिए पीएम मोदी रामलीला मैदान पहुंच चुके हैं। बीजेपी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में 10 हजार कार्यकर्ता, सभी सांसद और विधायक शामिल हो रहे हैं।

दोपहर 12: 30 बजे पीएम मोदी कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र देंगे। लोकसभा चुनाव से पहले देश भर से जुटे क़रीब 12 हज़ार कार्यकर्ताओं के साथ इस बैठक को चुनावी शंखनाद के तौर पर देखा जा रहा है। कल बैठक के पहले दिन राम मंदिर का मुद्दा भी उठा। इससे पहले शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह और दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी समेत भाजपा के पदाधिकारियों ने दीप जलाकर सम्मेलन का शुभारंभ किया। भाजपा की राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों और पार्टी के कार्यकर्ताओं की ओर से अमित शाह ने प्रधानमंत्री मोदी को अगड़ी जाति के गरीबों को 10 फीसदी आरक्षण प्रदान करने और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) में राहत प्रदान करने के लिए धन्यवाद दिया और उनका विशेष आभार जताया।

राष्ट्रीय अधिवेशन में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने अखिलेश और मायवती के गठबंधन पर तंज़ कसते हुए कहा कि "वे केवल नरेंद्र मोदी के खिलाफ नफरत को आधार बनाकर आपस में जुड़ रहे हैं. अवसरवादी, विरोधाभासी महागठबंधन का एक हास्यास्पद संयोजन है।"

बता दें कि आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (SP) और बहुजन समाज पार्टी (BSP) की सीटों और गठबंधन का औपचारिक ऐलान लखनऊ में हो रहा है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव बीएसपी सुप्रीमो मायावती के साथ ज्वॉइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसका ऐलान किया है। 'बुआ' (मायावती) और 'भतीजे' (अखिलेश) की ये प्रेस कॉन्फ्रेंस लखनऊ के गोमती नगर स्थित ताज होटल में चल रही है। बता दें कि 26 साल पहले हुए गेस्ट हाउस कांड के बाद एसपी-बीएसपी में आई दूरी के बाद यह पहला मौका है जब दोनों पार्टी के नेता एक साथ मीडिया से रू-ब-रू हुए।