बात-बात पर फतवा जारी करने वालों के खिलाफ भी होगी कार्रवाई ?

नई दिल्ली (25 दिसंबर): संसद में  फतवा जारी करने वाले कट्टरपंथियों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की मांग उठी है। राजस्थान के कोटा से भाजपा सांसद ओम बिरला ने युवा गायिका नाहीद आफरीन के खिलाफ जारी किए गए 46 फतवों के मामले को संज्ञान में लेते हुए सरकार से अपील की कि कट्टरपंथी किसी भी धर्म के हों, ऐसा फतवा जारी करने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। इसके लिए सरकार को एक्शन प्लान तैयार करना चाहिए। 


बिरला ने शून्य काल के दौरान मुद्दा उठाया कि जिस तरह से कट्टरपंथियों ने गायिका नाहीद के खिलाफ फतवा जारी किया है। वह दुर्भाग्यपूर्ण है। इस गायिका के खिलाफ एक या दो नहीं 46 कट्टरपंथियों ने फतवा जारी कर दिया। ऐसा करना संविधान के खिलाफ है। ऐसे कट्टरपंथियों के खिलाफ कार्रवाई की जरूरत है फिर चाहें वे किसी भी धर्म से संबंधित हों। सरकार को चाहिए कि ऐसे लोगों के खिलाफ ऐसा एक्शन प्लान तैयार करे जिससे कोई भी कट्टरपंथी इस तरह की हरकतें नहीं कर पाए।