सवर्णों की अनदेखी कर जीत हासिल नहीं कर सकती बीजेपी: सुरेंद्र सिंह


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 दिसंबर):  छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों के वोटों की गिनती जारी है। शुरुआती रुझानों में कांग्रेस ने जबरदस्त बढ़त बनाई हुई है, जबकि भाजपा इस बार अपना किला बचाने में पूरी तरह से नाकामयाब रही है। 'चाउर वाले बाबा' के नाम से मशहूर प्रदेश के मुख्यमंत्री का भी जादू इस बार फेल हो गया और भाजपा पूरे प्रदेश में धराशायी हो गई।  इस बीच नतीजों पर प्रतिक्रिया देते हुए यूपी के बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि हार की वजह सवर्णों का अपमान है।


बलिया जिले की बैरिया सीट से विधायक सुरेंद्र सिंह ने नतीजों पर मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, 'बीजेपी सवर्णों का अपमान करके जीत का सफर तय नहीं कर सकती। एससी-एसटी ऐक्ट में संशोधन का फैसला आत्मघाती था। चुनाव के नतीजे अपेक्षा के मुताबिक रहे हैं।' 


सुरेंद्र सिंह ने कहा कि बीजेपी को इन चुनावों में जनता ने आंशिक रूप से सबक दिया है। अगर पार्टी ने एससी-एसटी ऐक्ट को लेकर अपने फैसले पर दोबारा विचार नहीं किया तो लोकसभा चुनावों के दौरान भी पार्टी को नुकसान उठाना पड़ेगा। बीजेपी विधायक ने सवर्णों को बीजेपी का परंपरागत मतदाता बताते हुए अपनों का साथ नहीं छोड़ने की नसीहत भी दी। 


बता दें कि चुनाव आयोग से मिले अंतिम आंकड़ों के मुताबिक मध्य प्रदेश में कांग्रेस 115 सीटों पर आगे है, वहीं बीजेपी 106 सीटों पर बढ़त बनाए हुए हैं। इसके साथ ही राजस्थान में भी रुझानों में कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है। वहीं छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनना तय माना जा रहा है।