BJP MLA ने पत्नी से छेडख़ानी के आरोप में MLC को पीटा

सौरभ कुमार, पटना (30 मार्च): भाजपा विधायक ने पत्नी के साथ छेड़खानी के आरोप में अपनी ही पार्टी के प्रदेश

उपाध्यक्ष और एमएलसी लाल बाबू प्रसाद की सदन में जमकर धुनाई कर दी। उन्होंने विधान परिषद के सभापति

अवधेश नारायण सिंह से प्रसाद के दुर्व्यवहार की लिखित शिकायत भी की है। विधायक की पत्नी भी लोजपा से

विधान परिषद की सदस्य हैं।


मारपीट की यह घटना विधानसभा से विधान परिषद जाने वाले गलियारे में हुई। बाद में कुछ लोगों ने हस्तक्षेप कर मामले को शांत कराया। भाजपा के विधान परिषद सदस्य डा. दिलीप जायसवाल और रजनीश कुमार बहुत देर तक विधायक और उनकी पत्नी के गुस्से को शांत करने में लगे रहे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी एक विधायक ने इस घटना की जानकारी दी। घटना के बारे में जब विधायक जी और उनकी पत्नी विधान पार्षद से पूछा गया तो उन्होंने कहा कुछ नही हुआ है।


क्या है मामला...

- महिला पार्षद घर से विधान परिषद में सदन की कार्यवाही में हिस्सा लेने के लिए सीढिय़ों पर जैसे ही चढ़ रही थी, पीछे से आ रहे विधान पार्षद लाल बाबू प्रसाद ने उनकी पीठ पर हाथ रख दिया।

- प्रसाद की इस हरकत से वह सकते में आ गई। उन्होंने पति को फोन करके कहा- मैं आत्महत्या कर लूंगी।

- विधायक दौड़े-दौड़े विधान परिषद पहुंचे। पहले पत्नी से घटना की जानकारी को सुनकर उनका खून खौल गया।

- वह लाल बाबू प्रसाद को लगे ढूंढऩे। विधानसभा जाने वाले गलियारे में ही लालबाबू प्रसाद मिल गए।

- इसके बाद वहीं उन्होंने जमकर धुनाई कर दी। विधायक ने कहा- लाल बाबू को पकड़ कर सभापति के यहां ले जाना चाह रहा था। लेकिन कुछ लोगों के हस्तक्षेप के बाद उन्हें छुड़ा दिया।


लालबाबू ने कहा छेड़खानी का आरोप गलत...

भाजपा विधायक की पत्नी के साथ अभद्र व्यवहार के संबंध में पूछे जाने पर लालबाबू ने कहा कि यह बिल्कुल गलत बात है। मैंने उनके साथ कोई दुर्व्यवहार नहीं किया है। मेरा इस तरह का चरित्र नहीं है। उन्हें अवश्य कोई गलतफहमी हो गई है।