फ्रीडम 251 : नोएडा में कंपनी के ख़िलाफ़ बीजेपी सांसद किरीट सोमैया ने दर्ज़ कराया केस

नई दिल्ली (24 मार्च) : बीजेपी सांसद किरीट सोमैया ने 251 रुपए में स्मार्ट फोन देने का दावा करने वाली कंपनी के ख़िलाफ़ केस दर्ज़ कराया है। बुधवार को नोएडा के फेस थ्री थाने में एफआईआर दर्ज़ कराई गई। इसमें कहा गया है कि फ्रीडम 251 फोन देने के नाम पर कंपनी ने लुभावने विज्ञापन दिए और फिर अपने खाते में पैसे जमा करा कर ठगी  की।  

पुलिस ने आईपीसी की धारा 420 और आईटी एक्ट की धारा 66 के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस ने कहा कि मोबाइल कंपनी के खिलाफ आरोपों की जांच शुरू कर दी गई है।

सोमैया इस मामले में पहले सरकार से भी शिकायत कर चुके हैं। उन्होंने कहा था कि एक फर्जी कंपनी की ओर से किया गया यह बड़ा घोटाला है। मात्र तीन महीने पहले कंपनी रजिस्टर्ड हुई है और उसकी आरंभिक अंश पूंजी मात्र 50-60 लाख रुपये है। सोमैया ने आशंका जताई थी कि कंपनी पैसे लेकर भाग जाएगी।

इसके पहले रिंगिंग बेल्स के चेयरमैन अशोक चड्ढा ने दावा किया था कि फ्रीडम 251 की लागत 2500 रुपये है पर 251 रुपये में बेचेंगे। इसके लिए कोई सरकारी सब्सिडी नहीं मिल रही। उनका कहना था कि उत्पादन से कम लागत आएगी। करों में छूट से कीमत में 20 से 30 फीसदी घटेगी. जीएसटी लागू होने से भी 13.8 फीसदी और मेक इन इंडिया से 400 रुपये कम हो जाएंगे। उन्होंने कहा था कि ऑनलाइन बेचकर भी कंपनी 500 रुपये तक बचाएगी। इसके अलावा खुद के ऑनलाइन चैनल से 35 फीसदी और लागत घटेगी।

आईसीए के अध्यक्ष पंकज महिंद्रू ने भी इतनी कम कीमत पर सवाल उठाया था। उनका कहना था कि सबसे सस्ती सप्लाई चेन से सामान मंगाकर इसे बेचा जाए तो भी यह 40 डॉलर यानी 2700 रुपये तक में नहीं बेचा सकता है। कर और शुल्क, वितरण लागत, मुनाफा जो़ड़ने के बाद तो 4100 रुपये से कम में भी नहीं बेचा जा