बीजेपी नेता पर ऐसे हुआ AK-47 से जानलेवा हमला

नई दिल्ली(12 अगस्त):  मुरादनगर के रावली रोड पर गुरुवार रात स्कॉर्पियो में सवार बीजेपी नेता ब्रजपाल तेवतिया और उनके साथियों पर ताबड़तोड़ फायरिंग की गई। हमले में ब्रजपाल को 6 गोली लगी हैं। उनकी हालत चिंताजनक बनी हुई हैं। फिलहाल, ब्रजपाल व अन्य 3 लोगों को नोएडा के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इनके अलावा ड्राइवर समेत अन्य 7 लोग घायल हुए हैं।

- बताया जा रहा है कि ब्रजपाल अपने साथियों के साथ गुरुवार रात एक तेरहवीं से लौट रहे थे तभी फॉर्च्युनर सवार हमलावरों ने उनपर हमला कर दिया। इस दौरान एके-47 समेत अन्य कई ऑटोमेटिक हथियार से हमला किया गया है। घटना के दौरान एक हमलावर से एके-47 रास्ते में ही गिर गया है।

- बताया जा रहा है कि आरोपी इस हमलावर को छोड़कर ही फरार हो गए। वहीं, घटना की सूचना मिलते ही आईजी, डीआईजी व एसएसपी ने तुरंत मोदीनगर व मुरादनगर पूरे एरिया में नाकेबंदी कर बदमाशों की तलाश शुरू की। इस दौरान बदमाशों से घेराबंदी होने पर उन्होंने पुलिस पर भी फायरिंग कर दी और फरार हो गए।

- यह घटना मुरादनगर रावली रोड क्रॉसिंग के पास गुरुवार रात साढ़े 8 बजे हुई। ब्रजपाल तेवतिया अपने साथियों के साथ एक तेरहवीं से लौट रहे थे। इनके साथ एक अन्य स्कॉर्पियो भी थी लेकिन वह काफी पीछे थी। जब ये लोग क्रॉसिंग के पास पहुंचे थे तभी फॉर्च्युनर सवार हमलावर अचानक पीछे से आए। उनकी हरकत को देखकर ब्रजपाल के ड्राइवर मोहन ने भी उनके ओवरटेक किया तभी फॉर्च्युनर व अन्य गाड़ी में सवार हमलावरों ने घेर लिया और ताबड़तोड़ फायिरंग शुरू कर दी।

दोनों तरफ से 100 राउंड हुई फायरिंग बताया जा रहा है कि हमलावरों की तरफ से हुई 80 से ज्यादा राउंड फायरिंग की गई। इस दौरान बचाव में ब्रजपाल के साथियों ने भी फायरिंग की। हालांकि, इनके हमले में एक भी हमलावर को गोली नहीं लगी। वहीं, हमलावरों की तरफ से हुई फायरिंग में ब्रजपाल को 6 गोली लगी तो इनके साथी इंद्रपाल, रामपाल, अशोक, सुशील, मौकन, विपिन को भी गोली लगी। इनके ड्राइवर को भी चोट लगी। हालांकि, इसके बाद भी ड्राइवर किसी तरह सभी को बचाते हुए एक नजदीक के अस्पताल तक पहुंचाया।

खेत में भागा 1 हमलावर प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि घटना के दौरान वहां से एक पुलिस की गाड़ी भी पहुंच गई। जिसके बाद हमलावर तेजी से भागने लगे। उसी दौरान एक हमलावर से जल्दबाजी में एके-47 गिर गई। जिसे वह उठा नहीं पाया तब तक फॉर्च्युनर में सवार अन्य हमलावर फरार हो गए। इसके बाद छूटा हुआ हमलावर खेत के रास्ते फरार हुआ।

एसएसपी ने बताया कि ब्रजपाल तेवतिया मर्डर के मामले में भी आरोपी रह चुके हैं। ऐसे में कई बार उन पर पहले भी जानलेवा हमले हुए थे। वहीं, नेता के साथियों ने बताया कि एक साल पहले तक सुरक्षा के लिए एक सरकारी गनर भी मिला था लेकिन शासन के आदेश पर 2 महीने पहले ही हटा दिया गया था। बीजेपी नेता के साथियों ने बताया कि उनके पास एक बुलेटप्रूफ गाड़ी भी थी। उसी में वह अक्सर सवार होकर आते-जाते थे। बताया जा रहा है कि वह गुरुवार शाम को तेरहवीं में जाने के दौरान बिना बुलेटप्रूफ की गाड़ी में सवार होकर आ गए। ऐसे में मुखबिरी होने की भी आशंका जताई जा रही है। पुलिस इस ऐंगल से भी पड़ताल कर रही है।

कौन हैं ब्रजपाल तेवतिया -गाजियाबाद के महरौली गांव के रहने वाले हैं -राजनाथ सिंह के करीबी माने जाते हैं -मुरादनगर से 2012 में बीजेपी की टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं, हालांकि हार गए थे -टिकट दिलाने में भी राजनाथ सिंह ने बड़ी भूमिका निभाई थी -दिल्ली पुलिस में सिपाही रह चुके हैं, घरेलू कारणों से छोड़ दी थी नौकरी -दबंग नेता के रूप में जाने जाते हैं -रियल एस्टेट का कारोबार भी करते हैं -महरौली से दो बार पार्षद रहे चुके हैं -भाई विकास तेवतिया भी महरौली के पार्षद रह चुके हैं -कविनगर के एफ-ब्लॉक स्थित कोठी में रहते हैं