शिवसेना ने भाजपा से जताई नाराजगी, कहा- शिवाजी मेमोरियल आयोजन को किया हाईजैक

नई दिल्ली ( 25 दिसंबर): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार (24 दिसंबर) को मुंबई में अरब सागर में बनने वाले विशालकाय शिवाजी स्मारक की नींव रखी। छत्रपति शिवाजी मेमोरियल के जल पूजन के समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी मौजूद थे, लेकिन इसके बावजूद शिवसेना ने अपने सहयोगी दल भाजपा से नाराजगी जताई है। शिवसेना ने आरोप लगाया है कि भाजपा ने राजनीतिक फायदे के लिए इस पूरे कार्यक्रम को हाईजैक कर लिया है।

शिवसेना की प्रवक्ता मनीषा कयांदे ने शनिवार को कहा कि भाजपा को यह नहीं भूलना चाहिए यह स्मारक महाराष्ट्र के सभी नागरिकों का सपना है। उन्होंने कहा कि जब यह मेमोरियल सरकार के पैसों से बन रहा है तो भाजपा को ध्यान रखा चाहिए कि यह (जल पूजन या शिलान्यास) एक सरकारी कार्यक्रम है। और गठबंधन के सभी दलों को समान रूप से आदर दिया जाना चाहिए।

कयांदे ने कहा कि सत्ता में रहते हुए भाजपा में आयोजनों को हाईजैक करने का चलन रहा है। लेकिन यह गलत है और जनता के बीच इसका सही संदेश नहीं जाता है। भाजपा ने यहां राम मंदिर रेलवे स्टेशन के उद्घाटन में भी यही कोशिश की जब प्रधानमंत्री के समर्थन में लोग नारे लगाने लगे। शिवसेना ने भाजपा के खिलाफ राम मंदिर का मुद्दा भी उठाया। उन्होंने कहा कि वह लोकसभा में बहुमत आने के बावजूद अपने वायदे के मुताबिक अयोध्या में अब तक राम मंदिर नहीं बनवा पाई है।