‘माया दलितों के नाम पर कर रहीं वोट की राजनीति’

नई दिल्ली (22 अगस्त): भाजपा ने आगरा रैली में मायावती की ओर से केंद्र सरकार पर किए गए हमलों पर पलटवार किया है। पार्टी ने कहा कि बसपा प्रमुख दलितों के नाम पर सिर्फ वोट बटोरने की राजनीति कर रही हैं। भाजपा ने सपा, बसपा के बीच सांठगांठ का आरोप भी लगाया। 

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने रविवार को कहा कि आगामी 2017 के विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश पर दशकों से शासन करने वाले दोनों दलों को हिसाब देना होगा। उन्होंने कहा कि विकास विरोधी, दलित विरोधी पार्टियों को केंद्र सरकार के गांव, गरीब, दलित, किसान उन्मुख कार्यो की सफलता पच नहीं रही है। इसलिए वे मनगढंत आरोप लगाकार भाजपा को बदनाम करने की साजिश रचते रहते हैं। 

शर्मा ने कहा कि सपा और बसपा में सांठगांठ की राजनीति चल रही है। मायावती के शासनकाल में 30 हजार दलितों पर अत्याचार के मामले सामने आए थे। यूपी में सपा शासनकाल में दलितों पर अत्याचार के मामलों में मायावती ने राज्य मुख्यमंत्री से कोई सवाल-जवाब नहीं किया।