''किताबों से महापुरुषों का इतिहास हटा रही सरकार''

नई दिल्ली (10 मई): गुजरात के नए अकेडमिक सेशन से किताबों में हुए बदलाव का मुद्दा आज संसद में उठा। राज्यसभा में कांग्रेस सांसद राजीव शुक्ला ने मुद्दे को उठाया। राजीव शुक्ला ने कहा कि सरकार किताबों से पुराने महापुरुषों का इतिहास हटा रही है।

दरअसल गुजरात में जून में शुरू हो रहे नए शिक्षा सत्र में बच्चों को पढ़ाई जाने वाली किताबों में देशभक्ति, भारत माता और भारतीय संस्कृति को जगह दी जाएगी। राजीव शुक्ला ने कहा कि बीजेपी सरकार महापुरुषों का नाम किताबों से हटाने के साथ-साथ ही हवाई अड्डों पर भी सिर्फ शहर के नाम की घोषणा के बारे में निर्देश दिए है। हमारी सरकार ने कभी ऐसा नहीं किया और हमारे लिए सभी महापुरुष समान हैं।

कांग्रेस के आरोपों पर सांसद मुख्तार अब्बास नकवी ने पलटवार किया और सारे आरोपों को सिरे से खारिज किया। उन्होंने कहा कि किसी भी महापुरुष का नाम इतिहास के पन्नों से नहीं हटाया जा रहा है, लेकिन जिन महापुरुषों का नाम कांग्रेस ने अभी तक छिपाकर रखे हुए थे, उनके नामों को बीजेपी सरकार फिर से किताबों में ला रही है।

वीडियो: [embed]https://www.youtube.com/watch?v=F0UlPfhyzGk[/embed]