OMG! 7 साल में 150 रुपए बनाए 15 करोड़

नई दिल्ली (25 मई): दुनिया में बहुत से लोग होंगे जो शेयर बाजार या मुच्युअल फंड जैसी दूसरी स्कीमों में निवेश करते है। लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है जब 7 साल में 150 रुपए लगाकर कोई 15 करोड़पति बना हो। जी हां, इतने ज्यादा रिटर्न के बाद यह निवेश भारत ही नहीं, दुनिया के कई देशों के लिए पहेली बन गया है।

भारत सहित दुनिया में भी जिन लोगों ने बिटक्वॉइन में निवेश किया था, उन्हें जमकर मुनाफा हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक 7 साल पहले बिटक्वॉइन की कीमत 15 पैसे थी और आज उसकी कीमत बढ़कर 1.5 लाख रुपए हो गई है।

बिटक्वाइन के क्रेज की वजह यह है कि इसमें निवेश करना दुनिया में सबसे सेफ भी माना जाता है। बिटक्वॉइन डिजिटल करंसी है जो लोगों को बिना क्रेडिट, क्रेडिट कार्ड जारीकर्ता या अन्य थर्ड पार्टी के सामान और सेवाओं को खरीदने और मुद्रा का आदान-प्रदान करने की अनुमति देता है।

- यह एक ऐसी करंसी है, जिस पर किसी देश की सरकार का कोई नियंत्रण नहीं है।

- रुपए या डॉलर की तरह इसकी छपाई नहीं की जाती।

- इसकी कंप्यूटर के जरिए खोज की जाती है।

- एक पहेली को ऑनलाइन हल करने से बिटक्वाइन मिलते हैं, साथ ही पैसे देकर भी इसे खरीद जा सकता है।

- फंड ट्रांसफर, इंटरनेट पर सीधे लेनदेन, सामान खरीदने और गैरकानूनी खरीद-बिक्री में इसका इस्तेमाल होता है।

- भारत में बिटक्वाइन के ट्रांजैक्शन का प्लेटफॉर्म https://support.buysellbitco.in/support/home पर उपलब्ध है।