500 करोड़ की रंगदारी न देने पर विप्रो को जैविक हमले की धमकी

नई दिल्ली (3 मई): सूचना तकनीकी (आईटी)  क्षेत्र की बड़ी कंपनी विप्रो से कुछ अज्ञात सोर्सेज ने 500 करोड़ की रंगदारी मांगी है। रंगदारी न देने पर जैविक हमले की भी धमकी दी गयी है। विप्रो ने कहा कि उसे धमकी भरा दूसरा ई-मेल मिलने के बाद अपने विभिन्न परिसरों व कार्यालयों की सुरक्षा कड़ी कर दी है लेकिन, इससे कंपनी के परिचालन पर कोई असर नहीं पड़ा है।

कंपनी ने एक बयान में कहा, कि विप्रो इस बात की पुष्टि करती है कि उसे धमकी भरा दूसरा ई-मेल मिला है। लेकिन, कंपनी के परिचालन पर कोई असर नहीं पड़ा है। बेंगलुरू के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त हेमंत निम्बालकर ने इस खबर की पुष्टि की कि किसी ने दूसरी बार धमकी देकर 500 करोड़ रुपये बिटक्वाइन की मांग की है। उन्होंने कहा कि यह दूसरी बार है कि विप्रो को धमकीभरा ई-मेल मिला है। कोई अज्ञात व्यक्ति 500 करोड़ रुपये के बराबर बिटक्वाइन में धन की मांग कर रहा है और कर्मचारियों पर जैविक हमले की धमकी दे रहा है। पिछले महीने के प्रारंभ में विप्रो ने कहा था कि उसे अज्ञात स्रोत से धमकीभरा ई-मेल मिला है ।