बिलावल भुट्टो ने इमरान खान से पूछा -पाकिस्तान में खुलेआम कैसे घूम रहे हैं आतंकी?


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (14 मार्च): पाकिस्तान में विपक्ष के नेता और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के चेयरमैन बिलावल भुट्टो जरदारी ने भी पाकिस्तान के पीएम इमरान खान पर निशाना साधा है। उन्होंने इमरान खान सरकार से पूछा कि दूसरे देशों में हमला करने वाले आतंकी पाकिस्तान में खुलेआम कैसे घूम रहे हैं। बिलावल ने कहा कि पाकिस्तान में सक्रिय आतंकी सगंठनों के खिलाफ मजबूत कार्रवाई नहीं की गई। इसी का नतीजा है कि उनकी मां की हत्या हुई। ये आतंकी संगठन हमारे देश में बच्चों को मार रहे हैं। विदेशी धरती पर हमले करते हैं। आज पूरा पाकिस्तान इसकी सजा भुगत रहा है। बिलावल ने ये दावा किया कि इमरान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ में तीन ऐसे मंत्री हैं जिनका संपर्क प्रतिबंधित संगठनों से है। 

हाल ही में इमरान खान ने कहा था कि विदेशों में हमला करने वाले आतंकी समूहों के लिए उनके देश में जगह नहीं है। इमरान खान ने आतंकी संगठनों के खिलाफ एक्शन लेने की घोषणा की थी. दिखावे के लिए कुछ संगठनों के दफ्तरों पर कार्रवाई भी की गई। आतंकियों को बचाने के पाकिस्तान के मिशन में पड़ोसी देश चीन भी साझेदार बनता दिख रहा है। यूएनएससी में चीन ने मसूद अजहर पर बैन लगाने के प्रस्ताव को वीटो लगाकर रोक दिया। पुलवामा हमले के बाद से भारत-पाकिस्तान के बीच रिश्ते काफी तल्ख हो गए हैं। बता दें कि 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे। इसकी जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। जवाब में भारत ने 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट में जैश के आतंकी ठिकानों पर हवाई हमले किए थे। 

म्यूनिख सिक्योरिटी कॉन्फ्रेंस में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के चेयरमैन बिलावल भुट्टो ने कहा था कि अगर कश्मीरी आजाद होते तो पुलवामा हमला नहीं होता। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि इस कॉन्फ्रेंस में आए दुनिया भर के नेताओं की नजर में यह साफ है कि पाकिस्तान आतंकियों का स्वर्ग नहीं है। लेकिन पाकिस्तान को खुद की सुरक्षा के लिए आतंकियों पर कार्रवाई करनी होगी ताकि उसका भविष्य ठीक बिलावल भुट्टो ने कहा कि इमरान खान राजनीतिक स्टंट कर रहे हैं। उन्हें इसकी भारी कीमत चुकानी होगी. पुलवामा हमले के बाद भारतीय रवैये से देश के लोगों में गुस्सा है। इमरान के लिए लोगों में नफरत है।