अखिलेश-शिवपाल के 'महाभारत' के बीच बिजनौर में छेड़छाड़ का विरोध करने पर चली गोलियां, 4 की मौत

नई दिल्ली(16 सितंबर): छेड़छाड़ का विरोध करने पर हुए विवाद में दो पक्षों में जमकर फायरिंग हुई। बवाल में 4 लोगों की मौत हो गई, जबकि 10 से ज्‍यादा लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। गुस्‍साए लोगों ने नेशनल हाइवे 119 पर शव रखकर प्रदर्शन किया।

- पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे पुलिस अधि‍कारियों ने लोगों को समझाकर शांत कराया। 

- मामला बिजनौर के शहर कोतवाली इलाके का है।

- दरअसल, विशेष समुदाय की लड़की जब स्कूल जा रही थी तो कुछ लड़कों ने उसे छेड़ दिया।

- जब इस छेड़छाड़ का विरोध छात्र के परिजनों ने किया तो विवाद हो गया।

- मामूली विवाद के बाद मामला शांत हो गया।

- कुछ देर बाद लड़कों का गुट अपने कई साथियों के साथ देशी तमंचे, चाकू और लाठी लेकर छात्रा के घर आ गए और मोहल्ले में जमकर उपद्रव मचाया और गोलियां चलाई।

- फायरिंग में 4 लोगों की मौत हो गई, जबकि 10 से ज्‍यादा घायल हो गए।

- मरने वालो के नाम अहसान, सरफराज और अनीसुद्दीन है।

- वारदात से गुस्साए लोगों ने शव को हाइवे पर रखकर जाम लगा कर पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

- मौके पर भारी फोर्स को तैनात कर दिया गया है। कुछ देर बाद एसपी उमेश श्रीवास्‍तव नेे कहा कि दोषि‍यों के खि‍लाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी।

- दोपहर में एडीजी लॉ एंड ऑर्डर दलजीत सिंह चौधरी और प्रमुख सचिव गृह भी पहुंचे।

- परिजन पुलिस की भूमिका को लेकर नाराज दिखे।

- उनका कहना है कि बार-बार कहने से भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची, जबकि वहां पर मौजूद दो पुलिसकर्मी घटना के वक्‍त भाग गए।

- एसपी उमेश श्रीवास्‍तव नेे कहा कि दोषि‍यों के खि‍लाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी।