बिहार टॉपर्स घोटाले में एक और बड़ा खुलासा- कॉपी में लिखे थे 101 फिल्मों के नाम

नई दिल्ली (9 अक्टूबर): बिहार इंटर टॉपर्स घोटाले में आर्ट्स की टॉपर रही रूबी राय की आंसरशीट्स सामने आई हैं। रूबी ने ओरिजिनल कॉपी में शायरी लिखी थी। एक आंसरशीट में 101 फिल्मों के नाम लिखे थे। हिंदी की कॉपी में 300 बार तुलसीदासजी लिखा था। बाद में ये कॉपियां बदल दी गई थीं। एक्सपर्ट ने रूबी के लिए जवाब लिखे थे। इसी साल जून में घोटाले का खुलासा होने पर रूबी का रिजल्ट रद्द कर दिया गया था। 

- रूबी राय ने अंग्रेजी की कॉपी में हिंदी में भी कुछ लिखा था। वह एग्जाम हॉल में सिर्फ वक्त काटने के लिए जाती थी।

- रूबी जिस इंटर कॉलेज में पढ़ती थी, उसका मालिक और टॉपर्स स्कैम का मास्टरमाइंड बच्चा राय रूबी के पिता का अच्छा दोस्त था।

- पिता ने बच्चा राय से अपनी बेटी को एग्जाम में मदद के लिए कहा था।

- बच्चा राय ने रूबी समेत कई स्टूडेंट्स की ओरिजिनल आंसरशीट्स में एक्सपर्ट्स से जवाब लिखवाए और स्टूडेंट्स को टॉपर्स की लिस्ट में शामिल करा दिया।

- पुलिस के मुताबिक, राज्य में इस तरह से बच्चों को टॉप कराने का खेल काफी समय से चल रहा था।

- एजुकेशन माफिया अफसरों, नेताओं और अपने करीबियों के बच्चों को टॉप कराता था। रूबी राय इन्हीं में से एक थी।

- एग्जाम से पहले ऐसे बच्चों को सिलेक्ट कर लिया जाता था। इस काम के लिए घर वालों से लाखों रुपए लिए जाते थे।

- बच्चे आम स्टूडेंट्स की तरह ही एग्जाम देने सेंटर पर जाते थे।

- परीक्षा सेंटर पर वह पूरे 3 घंटे बैठे रहते और कॉपी में कुछ न कुछ लिखते रहते थे, जिससे किसी को शक न हो।

- एग्जाम का वक्त खत्म होने के बाद चुपचाप कॉपी जमाकर चले जाते थे।