बिहार बोर्ड का कारनामा, 79 पाने वाले को 2 नंबर देकर किया फेल

नई दिल्ली ( 17 नवंबर ): बिहार बोर्ड को उसके कारनामों को लिया जाना जाता है। अब बोर्ड ने एक और कारनामा किया है। बोर्ड ने एक छात्र को हिंदी विषय में 100 में से 2 अंक दिए और फेल कर दिया। जब छात्र ने आरटीआई के जरिए बिहार विद्यालय परीक्षा समिति से कॉपी देखने की मांग की तो उसे 79 नंबर मिले थे। इसके बाद बोर्ड के अधिकारियों में हड़कंप मच गया और आनन फानन में रिजल्ट सही किया गया। 

छात्र धनंजय कुमार बिहार के रोहतास का रहने वाला है। उसने 2016 में हाई स्कूल तिलौथु से मैट्रिक की परीक्षा दी थी। रिजल्ट में धनंजय ने सभी विषयों में अच्छे नंबर प्राप्त किए, लेकिन हिंदी में उसे फेल कर दिया गया। धनंजय को हिंदी में 100 में सिर्फ 2 अंक मिले। वहीं, उसे गणित में 96 नंबर मिले थे। हिंदी में सिर्फ 2 नंबर मिलने के बाद धनंजय कुमार को काफी हैरानी हुई और उसने स्क्रूटनी का फॉर्म भरा, लेकिन इसके बाद भी बोर्ड ने धनंजय को 2 नंबर ही दिए। 

धनंजय कुमार ने अपने हिंदी की आंसर शीट खुद जांचने के लिए आरटीआई दाखि‍ल की। इस पर 1 नवंबर को बिहार बोर्ड की तरफ से धनंजय कुमार को हिंदी विषय की आंसर शीट की फोटोकॉपी दी गई, जिसमें धनंजय को 79 अंक मिले थे।

इसके बाद अपनी मार्कशीट को ठीक करवाने के लिए भी धनंजय कुमार को बिहार बोर्ड के चक्कर लगाने पड़े। जब बोर्ड ने इस मामले में कोई कार्यवाही नहीं की तो धनंजय ने मीडिया से संपर्क किया।