तेजस्वी यादव का बंगला खाली करवाने पहुंचे अधिकारी, धरने पर बैठे आरजेडी विधायक


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (5 दिसंबर): राष्ट्रीय जनता दल के नेता और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव की सरकारी बंगले के पर सियासी घमासान तेज हो गई है। तेजस्वी यादव के 5 देशरत्न मार्ग वाले बंगाले को आज प्रशासन की टीम वज्रवाहन के साथ खाली करवाने पहुंची। लेकिन अब तेजस्वी यादव के बंगले के बाहर आरजेडी के विधायकों ने धरना देना शुरू कर दिया। साथ ही बंगले के बाहर धरने पर बैठे आरजेडी विधायक नीतीश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे। तेजस्वी यादव फिलहाल दिल्ली में हैं। तेजप्रताप यादव ने इस बात की जानकारी दी है। तेजस्वी यादव ने पहले से ही बंगले पर यह इश्तेहार लगा रखा है कि मामला कोर्ट में है।

 गौरतलब है कि तेजस्वी यादव का बंगला पटना के देशरत्न मार्ग पर स्थित है। बताया जा रहा है कि बिहार सरकार के आवास विभाग ने जिला प्रशासन को इस मामले में नोटिस जारी करते हुए कार्यवाही करने को कहा था। बंगला खाली कराने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस बल भी पहुंचा। इनमें भवन निर्माण के अधिकारी भी शामिल थे।

दरअसल, डेढ़ साल पहले आरजेडी के हाथों से सत्ता जाने के बाद बिहार सरकार के भवन निर्माण विभाग ने तेजस्वी यादव को उप मुख्यमंत्री के तौर पर आवंटित बंगला खाली करने को कहा। सरकार ने तेजस्वी को नेता प्रतिपक्ष के रूप में 1, पोलो रोड का बंगला आवंटित किया जिसमें फिलहाल उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी रहते हैं। भवन निर्माण विभाग ने तेजस्वी का बंगला, सुशील मोदी को उपमुख्यमंत्री के तौर पर आवंटित कर दिया लेकिन पिछले डेढ़ साल से तेजस्वी यादव ने अपना बंगला खाली नहीं किया है और इसे बचाने के लिए पटना हाई कोर्ट तक चले गए।

हालांकि, न्यायालय में बिहार सरकार की जीत हुई औरतेजस्वी यादव को अपना बंगला तुरंत खाली करने का फरमान कोर्ट ने सुना दिया। पटना उच्च न्यायालय के द्वारा भी तेजस्वी यादव को बंगला खाली करने का फरमान जारी किए हुए तकरीबन 2 महीने का वक्त बीत चुका है लेकिन अब तक उन्होंने इसे खाली नहीं किया है।