Blog single photo

बिहार के किशनगंज में युवती से गैंगरेप मामले में 4 आरोपी गिरफ्तार

बिहार के किशनगंज में युवती के साथ गैंगरेप मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में पीड़ित की शिकायत के बाद छह आरोपियों को नामजद किया गया था, पुलिस अभी दो और आरोपियों की

Photo: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (9 फरवरी): बिहार के किशनगंज में युवती के साथ गैंगरेप मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में पीड़ित की शिकायत के बाद छह आरोपियों को नामजद किया गया था, पुलिस अभी दो और आरोपियों की तलाश में जुटी है। किशनगंज में पिता की आंखों के सामने युवती को बंधक बनाकर गैंगरेप किया गया था।

4 फरवरी को रात के 10 बजे 6 बदमाशों ने घर का दरवाजा खटखटाया, पीने के लिए पानी मांगा और जब दरवाजा खुला तो जबरन घर में घुसकर खौफनाक वारदात को अंजाम दिया। घटना किशनगंज जिले के पत्थरघट्टी गांव की है। बुजुर्ग पिता और उनकी 19 साल की बेटी सो रहे थे। 6 अपराधी पानी पीने के बहाने घर में घुसे। पहले पिता को रस्सियों से बांधा और फिर पिता और बेटी को घर से दूर सुनसान इलाके में ले गए। इसके बाद इन्होंने दिन दहलाने वाली वारदात को अंजाम दिया। इन्होंने पिता की आंखों के सामने उनकी बेटी से गैंग रेप किया।

लड़की की हालत बिगड़ने पर सारे आरोपी मौके से फरार हो गए। जाते-जाते धमकी दे गए कि अगर किसी को बताया तो जिंदा जला देंगे। पिता पहले अपनी बेटी को अस्पताल लेकर गए। मामला खुला तो पुलिस को खबर की गई। पुलिस दावा करती रही कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। जिले के एसपी खुद मामले को देख रहे थे। एसपी पीड़ित परिवार के घर भी गए और परिवार से बात की। अब खबर आ रही है कि इस मामले में 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि दो अभी भी फरार है।

घटना की जानकारी सुनकर लोग पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। इस घिनौनी वारदात ने एक बार फिर बिहार की नीतीश सरकार को कटघरे में खड़ा किया है। गुरुवार को मुजफ्फरनगर बालिका गृह कांड में भी नीतीश सरकार को सुप्रीम कोर्ट ने कड़ी फटकार लगाई थी। सुप्रीम कोर्ट ने मामले को दिल्ली की साकेत कोर्ट में ट्रांसफर कर दिया। सुप्रीम कोर्ट ने केस से जुड़ी सभी फाइलें दो हफ्ते में स्पेशल पोक्सो कोर्ट को सौंपने और छह महीने में ट्रायल पूरा करने के निर्देश दिए हैं।

Tags :

NEXT STORY
Top