बिहार के आदर्श को 'गूगल' में मिला एक करोड़ का पैकेज

नई दिल्ली (02 जून): बिहार में बुद्धा कॉलोनी के निवासी आदर्श कुमार को गूगल ने एक करोड़ बीस लाख रुपये सालाना वेतन पर नौकरी दी है। खास बात यह है कि पटना के आदर्श के पास आईआईटी रूड़की से मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिग्री है। लेकिन वह अपना करियर बतौर सॉफ़्टवेयर इंजीनियर शुरू कर रहे हैं। आदर्श को बारहवीं के मैथ्स और कैमिस्ट्री के पेपर में पूरे 100 अंक मिले थे।

आदर्श कहते हैं, क्लास तीन से लेकर बारहवीं तक की स्टडी बीडी पब्लिक स्कूल से ही किया है। जहां से दसवीं को 2012 में तथा बारहवीं को 2014 में पूरा किया। वह कहते हैं, शुरू से मेरी तमन्ना मैथ में थी, लिहाजा मैंने जेईई को दिया। जब रैंक जारी हुआ तो मुझे आईआईटी रुडकी में सीट अलॉट हुआ। जहां मेरा नामांकन मेकेनिकल इंजीनियरिंग ब्रांच में हुआ।

वह कहते हैं, नामांकन तो मेकेनिकल में हुआ था, लेकिन मेरा इंटरेस्ट मैथ और प्रोग्रामिंग में बना रहा। मैथ में मेरे रूझान का ही असर था कि मुझे बारहवीं के मैथ्स और केमेस्ट्री के पेपर में पूरे 100 अंक मिले थे। वह कहते हैं, रुडकी में स्टडी के दौरान भी प्रोग्रामिंग करना जारी रखा। इंटरव्यू के दौरान गूगल द्वारा भी मुझसे प्रोग्रामिंग के ही सवाल पूछे गये। 

आदर्श के मुताबिक, इंजीनियरिंग के चौथे साल तक आते-आते प्रोग्रामिंग पर उनकी अच्छी पकड़ हो गई थी। उनमें आत्मविश्वास आ गया था। इस बीच कैंपस सेलेक्शन से वे एक कंपनी के लिए चुन भी लिए गए थे।

लेकिन इस बीच गूगल में ही काम कर रहे उनके एक सीनियर हर्षिल शाह ने उनसे कहा कि अगर वह गूगल में नौकरी के लिए कोशिश करना चाहते हैं तो वो उन्हें रेफ़र कर सकते हैं।