मुजफ्फरपुर कांड: ब्रजेश ठाकुर पर और कसा शिकंजा, भागलपुर जेल में किया जाएगा शिफ्ट

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 अक्टूबर): बिहार के मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड के मुख्य अभियुक्त ब्रजेश ठाकुर पर शिकंजा कसता जा रहा है। बिहार सरकार ने आरोपी ब्रजेश ठाकुर को मुजफ्फरपुर से भागलपुर जेल में शिफ्ट करने के सीबीआई के अनुरोध को स्वीकार कर लिया है। साथ ही इस मामले में 14 अन्य आरोपियों को पटना के बेऊर जेल में शिफ्ट किया जायेगा। इससे पहले सीबीआई की टीम ने बालिका गृह व स्वाधार गृह की फाइलों को पांच घंटे तक खंगाला। वहां से सीबीआई ने सात फाइलों के बंडल को जब्त भी किया है।
सूत्रों के मुताबिक, बिहार सरकार ने सीबीआई के उस अनुरोध का मान लिया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि आरोपी ब्रजेश ठाकुर को मुजफ्फरपुर से भागलपुर जेल में शिफ्ट कर दिया जाए। ऐसा मना जा रहा है कि, सीबीआई ने बृजेश ठाकुर के मुजफ्फरपुर जेल से इसलिए ट्रांसफर करवाया है। क्यों कि वह इस केस में वहां रहकर अपने दखल दे सकता है। सीबीआई के आग्रह पर अब बृजेश ठाकुर को भागलपुर भेजा जा रहा है।



वहीं, मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड के मुख्य अभियुक्त ब्रजेश ठाकुर की करोड़ों की संपत्ति को प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के अधीन आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) ने जब्त करने का प्रस्ताव प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को भेजा है। ब्रजेश की जिन संपत्तियों को जब्त करने का प्रस्ताव भेजा गया है, उनकी कीमत 2.65 करोड़ रुपये आंकी गयी है। अनुसंधान के दौरान पाया गया कि ब्रजेश द्वारा इन संपत्तियों को गलत तरीके से अर्जित किया गया है। इसे देखते हुए उसकी संपत्तियों को जब्त करने का प्रस्ताव ईडी को भेजा गया है।