बिहार में बिना चुनाव ही कांग्रेस का सफाया तय ?

नई दिल्ली (2 सितंबर): बिहार में बिना चुनाव लड़े ही कांग्रेस का सूपड़ा साफ होने वाला है। बस चार और विधायकों की जरूरत है। पार्टी के 14 विधायकों ने अलग अनौपचारिक समूह बना लिया है और वो सत्ताधारी जेडी(यू) में शामिल होने की योजना बना रहे हैं। बाकी चार आते ही ये लोग बगावत का झण्डा बुलंद कर पूरी धौंस के साथ नितीश की पार्टी में शामिल हो जायेंगे। चार और विधायकों का गुट में आना दल बदल विरोधी कानून से बचने के लिए जरूरी है। गुट में चार के आते ही  दो-तिहाई आंकड़े का इंतजाम हो जाएगा। राज्य में कुल 27 कांग्रेस विधायक हैं। ऐसे में पार्टी से अलग होकर भी विधायकी बची रहेगी।