नीतीश के निशाने पर बीजेपी, 'नमामि गंगे' प्रोजेक्ट को बताया फेल

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (25 जून): बीजेपी एक बार फिर से शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निशाने पर आ गई। बिहार के सीएम नीतीश कुमार सम्राट अशोक कन्वेंशन केंद्र स्थित ज्ञान भवन में दो दिवसीय पूर्वी भारत जलवायु कॉन्क्लेव-2018 का उद्घाटन करने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने बिहार राज्य में गंगा की स्थिति पर चिंता जाहिर करते हुए काई की समस्या का जिक्र किया। इसके इतर उन्होंने साथ में मौजूद केंद्रीय मंत्री डॉक्टर हर्षवर्द्धन से कहा कि बिहार में गंगा की स्थिति के बारे में अपने कैबिनेट के सहयोगी नितिन गडकरी को जानकारी दीजिएगा।

नीतीश कुमार ने कहा कि गंगा की ना तो निर्मलता बची है और ना ही अविरलता। उन्होंने गडकरी की जलमार्ग परियोजना को भी फ्लॉप करार दिया। ऐसा माना जा रहा है कि नीतीश कुमार ने नितिन गडकरी के उस बयान का जवाब दिया है, जिसमें उन्होंने बिहार में दो लाख करोड़ रुपये की सड़क परियोजनाओं के राज्य सरकार की लपरवाही से फंसे होने का आरोप लगाया था।

नीतीश कुमार ने कहा, 'गंगा नदी में वर्तमान में गाद की समस्या है। खासतौर पर बिहार में ऐसा है। केंद्र सरकार नैशनल वॉटरवे-1 प्रॉजेक्ट तब तक सफल नहीं होगा जब तक गाद की समस्या का निस्तारण नहीं किया जाता है।' नीतीश कुमार द्वारा दिए गए इस बयान को सुनकर वहां मौजूद सभी लोग भौचक्के रह गए।