इशारे-इशारों में बीजेपी का नीतीश को समर्थन

नई दिल्ली (26 जुलाई): बिहार में सियासी हलचल जोरों पर है और पूरे घटनाक्रम पर बीजेपी की पैनी नजर है। इन सबके बीच बीजेपी ने साफ किया है वो राज्य में विकास और स्थिरता के लिए मध्यावधि चुनाव के पक्ष में नहीं है। नीतीश कुमार के इस्तीफे बाद बीजेपी ने संसदीय दल की बैठक हुई। बैठक के बाद पार्टी नेता जेपी नड्डा ने कहा कि पार्टी बिहार में मध्यावधि चुनाव नहीं चाहती है। लिहाजा पार्टी ने बिहार के राजनीति हालात पर विचार के लिए तीन सदस्यीय कमेटी बनाई है जो जल्द ही पार्टी को अपना रिपोर्ट देगी। इसके बाद पार्टी कोई अंतिम फैसला करेगी। 

नीतीश कुमार के इस्तीफे के बाद बिहार में बीजेपी और जेडीयू के हाथ मिलाने के संकेत लगातार मजबूत हो रहे हैं। बीजेपी के इस रूख को नीतीश से हाथ मिलाने का संकेत माना जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर नीतीश को बधाई दी। बीजेपी नेता सुशील मोदी का कहा नीतीश के रवैये से खुश हैं। उन्होंने कहा, 'हम खुश हैं कि नीतीश ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कोई समझौता नहीं किया और आरजेडी के सामने घुटने नहीं टेके।