Blog single photo

महिला आयोग पहुंचा प्रेमी जोड़ा, कहा- इंसाफ नहीं मिला तो दे देंगे जान

ये इश्क नहीं आसां एक आग का दरिया है और डूब के जाना है। यह गाने के बोल पटना के अंकित और कोटा की सुषमा की प्रेम कहानी में सटीक बैठते हैं।

Image Source Google

सौरभ कुमार, न्यूज 24 ब्यूरो, पटना(20 सितंबर): ये इश्क नहीं आसां एक आग का दरिया है और डूब के जाना है। यह गाने के बोल पटना के अंकित और कोटा की सुषमा की प्रेम कहानी में सटीक बैठते हैं। इन्स्टाग्राम पर हुई दोस्ती प्यार में बदली और ज़माने की परवाह छोड़कर एक साथ जीने मरने की कसमें खाते हुए दोनों ने आर्य समाज मंदिर में शादी रचा ली, लेकिन मांग में सिंदूर और हाथों में हाथ डाले नम आंखों से अपने इश्क को बयां कर रही सुषमा को अपने प्रेमी और खुद की जान की चिंता सता रही है।

अपनी बात को सामने लाने वाले इस प्रेमी जोड़े ने आज महिला आयोग की चौखट पर दस्तक दी है। महिला आयोग में अपनी आपबीती सुनाते हुए प्रेमिका सुषमा के आंखों में आंसू थे, दोनों के चेहरे पर साफ़ डर देखा जा रहा था, सुषमा अंकित ने महिला आयोग के सामने अपनी आपबीती को बयां करते हुए इतना तक कह दिया कि अगर महिला आयोग से दोनों को इंसाफ नहीं मिलता है तो वह जान दे देंगे।

पटना के कंकड़बाग़ के रहने वाले अंकित चंद्रवंशी और कोटा राजस्थान की रहने वाली सुषमा मंडल की प्रेम कहानी चार महीने पहले सोशल मीडिया इंस्टाग्राम से शुरू हुई। दोनों ने पिछले महीने आर्य समाज मंदिर में शादी भी रचा ली, लेकिन इस प्यार में सुषमा के परिवार वाले ही विलेन बन गये हैं। साथ जीने मरने की कसमें खाकर घर से निकले यह प्रेमी जोड़े को अब अपनी सुरक्षा की चिंता सता रही है।

प्रेमी अंकित चन्द्रवंशी जाति का है, बल्कि सुषमा राजपूत जाति की है। अंकित की जाति के कारण ही सुषमा के परिवार वाले इस रिश्ते को मानने के लिए तैयार नहीं है। दोनों ने बताया कि सुषमा स्नातक की पढ़ाई कर रही है, इंस्टाग्राम पर दोस्ती होने के बाद अंकित पटना से निकलकर सुषमा के जन्मदिन पर कोटा राजस्थान पहुंचे, जिसकी खबर सुषमा के परिवार वालों को लग गई, जिसके बाद सुषमा के पिता ने उसके साथ मारपीट की। सुषमा की मानें तो उनके पिता ने इस रिश्ते को नकारते हुए यह भी कहा कि बिहार के लड़के अच्छे नहीं होते हैं। 

हालांकि महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणि मिश्रा ने प्रेमी जोड़े से सभी जानकारी लेने के बाद मदद का आश्वासन दिया हैष साथ ही महिला आयोग की अध्यक्ष ने मीडिया को भी इस बात की जानकारी दी है कि किसी भी तरह की परेशानी अगर इन प्रेमी जोड़े पर आती है तो महिला आयोग इस पर संज्ञान लेगी, क्योंकि दोनों बालिग़ है और दोनों ने मर्जी से शादी की है।अब प्रेमी जोड़ा दर-दर की ठोकर खा रहे है और खुद के लिए न्याय की गुहार लगा रहे है और दूसरी तरफ प्रेमी अंकित के परिवार के जिन सदस्यों को पुलिस पिछले कई दिनों से थाने बुलाकर परेशान कर रही है।

Tags :

NEXT STORY
Top