खुला राज, पीएम मोदी की मीटिंग में क्यों है मोबाइल पर बैन

नई दिल्ली ( 22 अप्रैल ): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को दिल्ली में आयोजित 11वें सिविल सेवा दिवस के एक कार्यक्रम में नौकरशाहों को संबोधित किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दौरान बताया कि उनकी बैठकों में मोबाइल फोन ले जाने पर क्यों पाबंदी है। पीएम मोदी ने बताया कि मीटिंग में अधिकारी सोशल साइट्स चेक करते रहते हैं इसलिए उन्होंने यह कदम उठाया।


मोदी ने बताया कि अक्सर वह बैठकों में देखते कि आधिकारिक चर्चा के बीच अधिकारी फोन पर सोशल मीडिया चेक कर रहे हैं। उन्होंने कहा, 'आजकल जिलास्तर के अधिकारी इतने वयस्त रहते हैं, बहुत व्यस्त रहते हैं। उनका अधिकतर समय सोशल मीडिया में खर्च होता है। मैंने इसलिए मीटिंग में मोबाइल फोन लाने पर रोक लगा दी, क्योंकि अधिकारी बीच मीटिंग में फोन निकालकर शुरू हो जाते हैं।'

प्रधानमंत्री ने कहा कि सोशल मीडिया का उपयोग लोगों के भले के लिए होना चाहिए न कि खुद की प्रशंसा के लिए। दुनिया ई-गवर्नेंस से मोबाइल-गवर्नेंस की तरफ बढ़ रही थी और लोगों के हित के लिये सर्वश्रेष्ठ उपकरण की आवश्यकता थी। सोशल मीडिया तब मददगार है जब उसका उपयोग लोगों के बीच अच्छे काम की जानकारी का प्रसार करने के लिए किया जाए।