पत्रकार पूजा की संदिग्ध मौत के मामले में एक और खुलासा

नई दिल्ली (7 मई): पत्रकार पूजा की संदिग्ध मौत के मामले में एक और खुलासा हुआ है। यह खुलासा पूजा की दोस्त और रूममेट रीबा ने किया है। रीबा ने पुलिस को बयान दिया है कि अमित ने उनके सामने पूजा को बेरहमी से पीटा था। इसके साथ ही एक और खुलासा हुआ है कि अमित के सात बाउंसरों का, वो सात बाउंसर जो अमित के कहने पर किसी को भी धमकाते है।

रीबा और पूजा 2011 में दिल्ली के साउथ एक्स में एक साथ रहती थीं। रीबा ने दावा किया है कि साल 2015 में अमित ने रीबा के सामने पूजा को इतना पीटा कि उसका हाथ तक टूट गया। अमित ने रात में पूजा की बेरहमी से पिटाई की थी। रीबा ने बीच-बचाव किया तो उसे भी चोट आई। उस घटना की फोटो रीबा ने पुलिस को दी है। अरुणाचल प्रदेश की रीबा ने अमित पर आरोप लगाया कि अमित ने बाल पकड़कर पूजा को पीटा और चोट लगने के बाद भी उसे अस्पताल में भर्ती नहीं करवाया।

रीबा का ये भी दावा है कि पूजा कभी सुसाइड नहीं कर सकती। रीबा के साथ-साथ पूजा की एक रिश्तेदार नें दावा किया कि पूजा की दो बार शादी तय हुई थी लेकिन अमित ने शादी तुड़वा दी। पूजा की मौत पर अमित पर शिकंजा कस रहा है। शुरू में अमित का साथ दे रहे पूजा के घरवालों ने अमित पर अब एक और गंभीर आरोप लगाया है। परिवार का आरोप है कि अमित के साथ हर वक्त सात बाउंसर रहते थे। अमित के कहने पर वही बाउंसर लोगों को धमकाते थे। पूजा के परिवार को भी अमित के पक्ष में बयान देने के लिए इन्हीं बाउंसरों ने धमकाया।वार ने ये तक कहा कि पूजा के पोस्टमॉर्टम के दौरान भी यही बाउंसर अस्पताल में मौजूद थे। अमित की पेशी के दौरान यही सात बाउंसर कोर्ट रूम में मौजूद थे। फिलहाल अमित जेल में है और उसके खिलाफ जिस कदर खुलासे हो रहे हैं, उससे साफ है उसकी मुश्किल बहुत ज्यादा बढ़ने वाली हैं।