आर्थिक तंगहाली से गुजर रहे हैं 'बिग बी' के ये रिश्तेदार !

नई दिल्ली (25 जनवरी): महानायक अमिताभ बच्चन के नाम से आज हर कोई वाकिफ हैं। हरिवंश रॉय बच्चन ने साल 2003 में मुंबई में अंतिम सांस ली थी। हरिवंश बच्चन रॉय का जन्म यूपी के प्रतापगढ़ में 27 नवंबर 1907 को हुआ था।

यूपी से राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने अपने एफिडेविट में घर में रखी हर चीज का खुलासा करते हुई कुल संपत्ति  रुपए लगभग 500 करोड़ की दर्ज है। वहीं डॉ. हरिवंश राय बच्चन के भांजे और सदी के महानायक अमिताभ बच्चन के फुफेरे भाई रामचंदर के तीसरे नंबर के बेटे अनूप की हालत बेहद खस्ता बताई जा रही हैं।

आलम यह है की उनके सामने दो जून की रोटी तक की समस्या रहती है। बताते हैं कि पहले एक इलेक्ट्रॉनिक की दुकान में काम करने वाले अनूप की आंखें कमजोर हो गईं तो प्राइवेट नौकरी भी छूट गई। अब लोगों के घर जाकर वे इलेक्ट्रिकल काम करते हैं। उसी से अपना जीवन यापन करते हैं। उनकी पत्नी मृदुला श्रीवास्तव कहती हैं कि तंगहाली ने उनकी तमाम जरूरतों को भी रोक रखा है। स्थिति इतनी बदतर है कि बच्चों की फीस तक नहीं भर पा रहे हैं।

मृदुला का कहना है कि उनके ससुर जिंदा थे, तब तक बाबू जी (डा हरिवंश राय बच्चन) पत्र लिखते थे। ससुर जी भी उनसे मिलने उनके दिल्ली और मुंबई वाले घर जाते रहते थे। मेरे पति भी एक मर्तबा अपने पिता जी के साथ गए थे। लेकिन करीब 25 साल पहले ससुर जी का देहांत हो गया तभी से यह रिश्ता टूट गया। हालाँकि, श्वेता बच्चन की शादी में कार्ड आया था, तो मेरे ससुर जी गए थे। अंतिम बार अभिषेक बच्चन की शादी का कार्ड जरूर आया था। हम लोग जाना भी चाहते थे, लेकिन पैसे न होने की वजह से नहीं जा सके।