EVM के जरिए हार का बहाना ढूढ़ रहा है विपक्ष- रविशंकर प्रसाद

भुवनेश्वर (15 अप्रैल): पिछले दिनों हुए विधानसभा चुनाव में मिली कामयाबी से बीजेपी के तमाम नेताओं के हौसले बुलंद हैं। इस जीत के साथ ही बीजेपी अब अपने अगले मिशन में जुट गई है। बीजेपी ओडिशा, बंगाल और केरल जैसे राज्यों में भी अब अपना परचम लहराना चाहती है। इसी कड़ी में बीजेपी भुवनेश्वर में दो दिवसीय राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हो रही है। बैठक में पीएम मोदी, अमित शाह समेत 300 से ज्यादा नेता मौजूद हैं और आगे की रणनीति पर मंथन कर रहे हैं।


बैठक के पहले दिन केंद्रीय मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने पिछले दिनों हुए विधानसभा चुनाव में मिली जीत का जिक्र करते हुए विपक्षी पार्टियों पर जमकर निशाना साध। उन्होंने कहा कि हम ये अपेक्षा करते थे कि हारे हुए दल ईमानदारी से हार को स्वीकार करेंगे, लेकिन अब वे EVM में हार का बहाना खोज रहे हैं।


रविशंकर प्रसाद की बड़ी बातें...


- बीजेपी के कार्यकर्ता न तो हिंसा से घबराते हैं और न डरते हैं


- चुनाव में हार को स्वीकार न करना लोकतंत्र का अनादर


- हम ये अपेक्षा करते थे कि हारे हुए दल ईमानदारी से हार को स्वीकार करेंगे, लेकिन अब वे EVM में हार का बहाना खोज रहे हैं


- अभी तक ये आधार रहता था कि बीजेपी कांग्रेस को तो हरा सकती है, लेकिन क्षेत्रीय दल को नहीं हरा सकती। यूपी ने इसे गलत साबित कर सकता


- हमारी कोशिश रहेगी कि इस साल होने वाले हिमाचल, गुजरात औऱ कर्नाटक के चुनाव में निर्णायक मत प्राप्त कर सकें


- हमें इस बात की खुशी है कि मणिपुर और गोवा में भी बीजेपी की सरकार बनी है


- राजनीतिक विश्लेषक दो तिहाई बहुमत को बड़ी जीत बताते आ रहे हैं, लेकिन बीजेपी की जीत से विश्लेषण के पैमाने बदल गए हैं