मां-बाप को मारकर आंगन में गाड़ा चुका है गर्लफ्रेंड की लाश पर चबूतरा बनाने वाला यह दरिंदा

भोपाल(4 फरवरी): गर्लफ्रेंड आकांक्षा की हत्या कर दफनाने वाल उदयन को लेकर बड़ा खुलासा  हुआ है। जैसे-जैसे मामले की जांच आगे बढ रही है वैसे-वैसे हैरान कर देने वाले खुलासे हो रहे हैं। पुलिस के मुताबिक इस शख्स ने आज से 6 साल पहले यानि 2011 में अपने माता-पिता को भी मौत के घाट उतार चुका है।  

गर्लफ्रेंड का मर्डर कर उसकी लाश को बक्से में डालकर सीमेंट का चबूतरा बनाने वाले आरोपी ने अपने मां-बाप की हत्या करने की बात भी कबूल की है। आरोपी उदयन ने पुलिस पूछताछ में यह खुलासा किया। उसने बताया कि रायपुर में 2011 में माता-पिता की हत्या करने के बाद उसने उनकी लाश घर के आंगन में ही गाड़ दी थी।

-बता दें न्यूज़ 24 ने 24 घंटे पहले भोपाल पुलिस से सवाल किया था कहीं ऐसा तो नहीं उदयन दास ने आकांशा की तरह ही अपने मां बाप का भी कत्ल कर दिया हो। अब यही सवाल भोपाल पुलिस की ज़ुबान पर हां के रूप में सामने आया है। भोपाल पुलिस के एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने न्यूज़ 24 को बताया कि उदयन ने ठीक आकांशा की तरह अपने मां-बाप का कत्ल कर कमरे के अंदर कब्र बनाकर दफ़्न कर दिया। अब वरिफिकेशन के लिए पुलिस की एक टीम रायपुर भेजी जा रही है।

-इतना ही नहीं इसको आकांक्षा को दफनाने का आइडिया इंग्लिश चैनल पर "वॉकिंग डेथ" नाम के सीरियल से आया था।

- पुलिस पूछताछ में यह बात भी सामने आई कि उदयन ने आकांक्षा के चबूतरे के ऊपर फांसी का फंदा लटका रखा था। वह खुद भी अपनी जान देना चाहता था लेकिन हिम्मत नहीं जुटा पाया।

- बता दें कि उदयन ने करीब 10 पहले सोशल मीडिया के जरिए आकांक्षा से दोस्ती बढ़ाई थी। बाद में दोनों भोपाल में साथ रहने लगे थे। पिछले साल जुलाई में उदयन ने आकांक्षा का मर्डर करके उसे घर में ही दफन कर दिया था।