सिमी के फरार सभी 8 आतंकवादियों को मार गिराया गया

नई दिल्ली ( 31 अक्टूबर ) : भोपाल सेंट्रल जेल से फरार आठ आतंकियों को मार गिराए जाने की खबर है। यह सभी आतंकी पुलिस से मुठभेड़ में मारे गए हैं। भोपाल सेंट्रल जेल से भागे थे सिमी के सभी आतंकी  और जेल से भागे आठ सिमी आतंकियों में से पांच खण्डवा जिले के निवासी है।

बता दें कि त्योहारों के मौसम में जब सुरक्षा पहले से ज्यादा कड़ी रहती है, भोपाल सेंट्रल जेल से सिमी आतंकियों के फरार होने से पूरे देश में हलचल मच गई थी। इसके बाद पूरे राज्य में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया था।

इससे पहले, गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से फोन पर बातचीत की है और पूरे मामले पर रिपोर्ट तलब की । वहीं, मुख्यमंत्री शिवराज ने इस सिलसिले में एक उच्च स्तरीय आपात बैठक बुलाई। उधर, दिल्ली की एंटी टेरर विंग, स्पेशल सेल ने अपनी एक टीम भोपाल भेजी।

हर जगह नाकाबंदी

घटना की खबर मिलते ही दिल्ली की तिहाड़ जेल सहित सभी अहम स्थानों की सुरक्षा और कड़ी कर दी गई है। दिल्ली और मध्य प्रदेश के सभी बस स्टैंड और रेलवे स्टेशनों की निगरानी की जा रही है। सीसीटीवी पर भी खास नजर रखी जा रही है और पुलिसवालों को सादे कपड़ों में तैनात किया गया है। मध्य प्रदेश में बड़े स्तर पर नाकाबंदी की गई है और फरार आतंकियों की ताजा तस्वीरें सभी एजेंसियों को भेज दी गई हैं। पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश में भी इस घटना के बाद अलर्ट घोषित कर दिया गया है। डीजीपी ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं।

पांच अधिकारी सस्पेंड

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह के मुताबिक, घटना के लिए जेल प्रशासन की लापरवाही जिम्मेदार है इसलिए 5 जेल कर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि फरार आतंकियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। आतंकियों पर 5-5 लाख रुपए के इनाम का ऐलान किया गया है।

फिर जेल तोड़ा

यह दूसरा मौका है जब मध्य प्रदेश में सिमी के आतंकी जेल तोड़कर फरार हुए हैं। इससे पहले, अक्टूबर 2013 में खंडवा जेल से सात आतंकी फरार हो गए थे। ऐसे में एमपी पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े हो गए हैं।