रेलवे का यात्रियों का तोहफा, 830 रुपये में कराएगी इन जगहों का दर्शन

नई दिल्ली(8 मई): रेलवे ने दर्शनार्थियों के लिए एक नई ट्रेन लॉन्च की है। ये ट्रेन यात्रियों को शिरडी, तिरुपति, जगन्नाथ पुरी, गंगासागर, बैद्यनाथ धाम और ज्योतिर्लिंगों की सैर कराएगी।

10 डिब्बों वाली यह ट्रेन 8 मई को अपनी पहली यात्रा 'पूर्व दर्शन' के लिए चंडीगढ़ से रवाना होगी। भारत दर्शन ट्रेन चंडीगढ़ से चलकर दिल्ली पहुंचेगी और उसके बाद अयोध्या, वाराणसी, गया, बैद्यनाथ धाम, जगन्नाथ पुरी से होते हुए गंगासागर पहुंचेगी। 

इस ट्रेन के पहले सफर के लिए आरसीटीसी ने सीटों की बुकिंग पूरी कर ली है। रेल मंत्रालय के सीनियर अफसर ने बताया कि यह ट्रेन तीर्थयात्रियों को बजट-फ्रेंडली पैकेज की सुविधा देगी। इस ट्रेन में सफर के लिए एक यात्री को एक दिन का 830 रुपये किराया चुकाना होगा और उसे देश के पूर्वी या उत्तरी हिस्से में चयनित तीर्थों की यात्रा करने का अवसर मिलेगा। यह ट्रेन महत्वपूर्ण धार्मिक स्थानों को कवर करेगी। 

रेल मंत्रालय के भारत-दर्शन पैकेज में रेल यात्रा, सड़क परिवहन, ठहरने की व्यवस्था, भोजन की व्यवस्था एवं तीर्थ स्थानों के दर्शन का इंतजाम शामिल है। भारत दर्शन योजना के तहत ट्रेन 7 ज्योतिर्लिंगों की भी यात्रा कराएगी। इसके लिए भारत दर्शन ट्रेन 23 मई को ही चंडीगढ़ से रवाना होगी। यह ट्रेन चंडीगढ़ से रवाना होने के बाद दिल्ली होते हुए उज्जैन (ओंकारेश्वर और महाकालेश्वर) , द्वारका (नागेश्वर), वेरावल (सोमनाथ), औरंगाबाद (गृशनेश्वर) और नासिक (भीमाशंकर और त्र्यंबकेश्वर) की यात्रा कराएगी। 

यही नहीं यह ट्रेन शिरडी समेत दक्षिण दर्शन की यात्रा भी कराएगी। इस रूट पर ट्रेन 27 जून को चंडीगढ़ से रवाना होगी और दिल्ली होते हुए शिरडी, तिरुपति, कांचीपुरम, रामेश्वरम, मदुरै, कन्याकुमारी, मैसूर और बेंगलुरु जाएगी। भारत दर्शन टूरिस्ट ट्रेन में कुल 10 कोच हैं और इनमें प्रशिक्षित टूर मैनेजर अपनी सेवाएं देंगे।