FIR में बड़ा खुलासा, भजियावाला परिवार के पास हैं 56 बैंक अकाउंट्स

नई दिल्ली ( 27 दिसंबर ): कालेधन को सफेद करने वाले सूरत के अरबपति चाय बेचने वाले किशोर भजियावाला के बारे में कई खुलासे हो चुके हैं। इन खुलासों के बाद अब एक और खुलासा हुआ है। सूरत के आयकर विभाग के उपायुक्त (जांच) ने सीबीआई के पास दर्ज की गयी एफआईआर में इस बात का खुलासा किया है कि भजियावाला परिवार के पास विभिन्न बैंकों में कुल 56 खाते थे।

एफआईआर में कहा गया है, 'भजियावाला और उसके परिवार के सदस्यों के नाम पर कुल 56 बैंक खाते हैं। इनमें से 16 बैंक खाते निजी बैंकों, 13 राष्ट्रीय बैंकों और 27 सूरत पीपल्स कोऑपरेटिव बैंक लिमिटेड (एसपीसीबी) में हैं।'

सीबीआई ने सोमवार को पुराने नोटों के गैरकानूनी लेन-देन को लेकर किशोर भजियावाला के दो बेटों- जिग्नेश और विलास के अलावा सूरत पीपल्स कोऑपरेटिव बैंक लिमिटेड के सीनियर मैनेजर पंकज भट्ट से पूछताछ की। इससे पहले सीबीआई ने शनिवार को सूरत में और सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय ने सूरत में भजियावाला से पूछताछ की।

बड़ी संख्या में खाते होने के अलावा भजियावाला परिवार के पास डमी नामों से बैंक लॉकर्स भी हैं। एफआईआर में कहा गया है, 'एसपीसीबी, उडाना उद्योगनगर ब्रांच के लॉकर नबंर 1550 से आयकर विभाग ने 2000 रुपये के नए नोटों के रूप में 97.84 लाख रुपये जब्त किए हैं। ये लॉकर ठाणे के हितेश रूघानी और दयमंती रुघानी के नाम पर हैं, लेकिन आरोप है कि इन खातों का संचालन किशोर भजियावाल के बेटे जिग्नेश द्वारा किया जाता था।'