इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के नाम पर आ रहे हैं फर्जी मेल, फ्राॅड से बचने के लिए इन बातों पर दें ध्यान

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (12 जुलाई): अभी इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने का दौर है। इंटरनेट पर धोखे से शिकार करनेवाले भी इस मौके का फायदा उठाने की कोशिश कर रहे हैं। खबर आ रही  है कि टैक्सपेयर्स को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के मेल से मिलती-जुलती आईडी से मेल आ रहे हैं , जिसमें कहा जा रहा है कि 'रिफंड अमाउंट पाने के लिए' अपने नेटबैंकिंग डीटेल्स दें।

 धोखाधड़ी करनेवालों की ओर से जो मेल आ रहे हैं, उनकी आईडी है- [email protected] जबकि इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की आईडी [email protected] है। फर्जी मेल आईडी और सही सरकारी आईडी में दो अंतर हैं। पहला यह कि फर्जी मेल में सिर्फ फाइलिंग (filling) है जबकि सही सरकारी मेल आईडी में फाइलिंग से पहले ई (efliling) है। दूसरा अंतर फाइलिंग की स्पेलिंग को लेकर है। 

फर्जी मेल आईडी में (filling) में डबल एल (ll) है जबकि इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की मेल आईडी में फाइलिंग (filing) की सही स्पेलिंग यानी सिंगल एल (l) है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के प्रवक्ता ने बुधवार को मीडिया से बात करते हुए बताया कि हम अपनी वेबसाइट पर चेतावनियां जारी करते रहते हैं। साथ ही हम टैक्सपेयर्स को टेक्स्ट मेसेज भेजकर भी ऑनलाइन फ्रॉड के बारे में सचेत करते रहते हैं। सबसे बढ़िया तो यह है कि इस तरह के संदिग्ध मेल का जवाब नहीं दें और न ही बैंक अकाउंट या क्रेडिट कार्ड डीटेल्स शेयर करें क्योंकि हम इनकी मांग नहीं करते।