रॉय मैथ्यू ने डायरी में लिखा- कोर्ट मार्शल से बेहतर मौत है

नई दिल्ली (4 मार्च): सेना के जवान रॉय मैथ्यू की डायरी उसकी कथित खुदकुशी के मामले को सुलझा सकती है। एक न्यूज वेबसाइट के स्टिंग में मैथ्यू और कुछ अन्य जवानों को आर्मी के बड़े अधिकारियों के सहायक के तौर पर काम करते दिखाया गया था। इन कामों में बड़े अधिकारियों के कुत्ते घुमाना और उनके बच्चों को स्कूल छोड़ना शामिल था। इस विडियो के सामने आने के कुछ दिनों बाद राय मैथ्यू महाराष्ट्र के देवलाली कैंट में संदिग्ध परिस्थितियों में मृत मिले थे। वह सेना में गनर के पद पर तैनात थे। उनकी डायरी अब मामले की जांच कर रही पुलिस के पास है। इस डायरी को उनका सुइसाइड नोट माना जा सकता है। अपनी डायरी में मैथ्यू ने मलयालम में लिखा, 'कोर्ट मार्शल होने से अच्छा है मर जाना।' उन्होंने डायरी में अपनी पत्नी और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ-साथ अपने कर्नल से माफी भी मांगी है।