हुआ खुलासा! इस‍िलए बरमूडा ट्राएंगल में गुम होते हैं प्लेन और जहाज

नई दिल्ली (4 मार्च): अभी तक बरमूडा ट्राएंगल वैज्ञानिकों के लिए एक ऐसा मिस्ट्री बना हुआ है, जहां से गुजरने वाले ना जाने कितने ही समुद्री जहाज और प्लेन खो चुके हैं। हालांकि अब साइंटिस्ट्स ने काफी रिसर्च के बाद इस बात का दावा किया है कि उन्हें इन सबके पीछे का कारण पता चल चुका है।

मौसम का है इससे गहरा रिश्ता...

साइंटिस्ट्स ने बरमूडा ट्राएंगल के आसपास के मौसम की काफी बारीकी से स्टडी की। इससे उन्हें ऐसी कई बातें पता चली, जिनके आधार पर वो इसकी मिस्ट्री सुलझाने का दावा कर रहे हैं। हजार सालों से ज्यादा हुए, अब तक कोई भी इस जगह से जिंदा लौट कर नहीं आ पाया। साइंटिस्ट्स की रिसर्च के मुताबिक, इस ट्राएंगल के ऊपर खतरनाक हवाएं चलती हैं।

इन हवाओं की गति 170 मील प्रति घंटे रहती है। जब कोई जहाज इस हवा की चपेट में आता है, तो अपना संतुलन खो बैठता है। जिसके कारण उनका एक्सीडेंट हो जाता है। ये हवाएं इसके ऊपर बनने वाले बादलों के कारण चलती हैं।