'एक लाख' खर्च करने के बाद भी सीधे और मुलायम नहीं हुए बाल, सलून & स्पा पर FIR

नई दिल्ली (7 मई): बैंगलुरु में एक 60 वर्षीय महिला ने एक सलून-स्पा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। महिला का आरोप है कि पैसे हड़पने के बाद भी उसके बालों को बर्बाद कर दिया गया।

'बैंगलोर मिरर' की रिपोर्ट के मुताबिक, रत्ना कुमारी नाम की महिला ने एक अपस्केल सलून-स्पा की इंद्रानगर चेन के खिलाफ यह मुकदमा किया है। यह महिला एचएसआर लेआउट की रहने वाली है। महिला का कहना है कि पहले उसने 2014 में बॉडीक्राफ्ट के लिए जाना शुरू किया। वह एक रेगुलर कस्टमर थी। पिछले साल उसे सिस्टीन हेयर ट्रीटमेंट के बारे में बताया गया। उसे बताया गया कि इस ट्रीटमेंट के जरिए उसके बाल पूरी तरह से सीधे और मुलायम हो जाएंगे।

रत्ना ने कहा, "ना तो थेरेपिस्ट और ना ही ओनर ने उन्हें बताया कि ये ट्रीटमेंट टेम्पररी है।" ट्रीटमेंट के लिए कई बार गुजरना था। "मैं सलून नियमित तौर पर जाती और ट्रीटमेंट के लिए घंटों बैठी रहती। मैंने प्रोसीजर के दौरान काफी महंगे शैम्पू, कंडीशनर्स और सीरम्स खरीदे।"

मैंने करीब एक लाख रुपए खर्च कर दिए लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। रत्ना का दावा है कि सलून अब उनसे कह रहा है कि आप एक बार और ट्राइ करें। उन्होंने बताया, "उनसे पैसे वापस करने के लिए कई बार कहने के बाद मैंने पुलिस के पास जाने का फैसला किया।"

3 मई को रत्ना ने इंद्रानगर पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज कराई। उन्होंने ट्रीटमेंट की आधी फीस वापस मांगी है। उनका कहना है कि उन्हें यह उस मानसिक परेशानी के लिए वापस लौटाया जाए। जिससे ट्रीटमेंट के दौरान उन्हें गुजरना हुआ।