नोटबंदी से हुए क्या फायदे, सरकार ने गिनाए

नई दिल्ली(7 नवंबर): एक साल पहले की गई नोटबंदी के कारण ब्लैक मनी को बाहर निकालने, जाली नोटों पर लगाम लगाने और चलन में कैश कम करने में मदद मिली है। वित्त मंत्रलाय ने सोमवार को यह जानकारी दी। 

- मंत्रालय ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर लिखा कि चलन में कैश 17.77 लाख करोड़ रुपये से कम होकर 4 अगस्त 2017 को 14.75 लाख करोड़ पर आ गया है। मंत्रालय ने कहा कि पुनर्मुद्रीकरण के बाद अब महज 83 प्रतिशत ही प्रभावी नकदी है। 

- मंत्रालय ने नोटबंदी के अन्य फायदे गिनाते हुए कहा कि इसने आतंकवाद और नक्सलवाद के वित्तपोषण पर गहरा आघात किया था। आगे लिखा, इनके अलावा नोटबंदी ने टैक्स कलेक्शन का दायरा बढ़ाने, अनौपचारिक अर्थव्यवस्था को औपचारिक अर्थव्यवस्था में तब्दील करने और पैसे को जिम्मेदार बनाने में मदद की है। इसने भुगतान का डिजिटलीकरण करने और देश को कम नकदी वाली अर्थव्यवस्था बनाने की दिशा में भी बड़ा योगदान दिया है। 

- सितंबर के दौरान 1.24 लाख करोड़ रुपये के डिजिटल ट्रांजैक्शंस हुए हैं। डिजिटल ट्रांजैक्शंस की कुल संख्या 8.77 करोड़ थी।