देखिये, राष्ट्रपति ने ऐसा क्या कहा कि इस देश के लोगों ने उतार दिये कपड़े और...

नई दिल्ली (30 जून): आर्थिक तंगी से  जूझ रहे एक देश के राष्ट्रपति ने अपने देश के लोगों से कहा कि वो कपड़े उतार दें और पसीना आने तक जम कर काम करें। उनका मकसद खूब काम करके अपने देश की आर्थिक स्थिति को दुरुस्त करने का था लेकिन लोगों ने उनकी इस बात का कुछ और ही मतलब निकाल लिया और कपड़े उतार कर काम करना शुरु कर दिया। इतना ही नहीं लोगों ने अपनी फोटो भी सोशल मीडिया पर शेयर कर दिये।

दरअसल,बेलारूस के राष्ट्रपति अलेक्शांद्र लुकाशेंको ने जब अपने देश के नागरिकों से "कपड़े उतारकर पसीना आने तक" काम करने की भावुक अपील की थी तो उनके पास ऐसे करने की वजहें थीं।देश मुश्किल आर्थिक दौर से गुज़र रहा है। रूबल का मूल्य गिर रहा है, बेरोज़गारी बढ़ रही है ऐसे में लोग मेहनत न करें तो क्या करें? राष्ट्रपति की भावुक अपील को कुछ लोगों ने दिल पर ले लिया और असल में कपड़े उतार भी दिए। लोगों ने अपने ऑफिस से न्यूड तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट करनी शुरू कर दीं।

बात सिर्फ़ तस्वीरें पोस्ट करने पर ही नहीं रुकी। कम कपड़े पहने कुछ लोगों ने राष्ट्रपति के संदेश के बारे में मज़ाकिया गीत भी रिकॉर्ड किए हैं। इस हैशटैग ने बेलारूस की सीमाएं पार कर लीं और रूस, यूक्रेन और अन्य बाल्टिक देशों के लोगों ने भी अपने ऑफिस से न्यूड तस्वीरें पोस्ट की।