इस शहर में भिखारी भी कमा लेता 50 लाख रुपये महीना

नई दिल्ली (12 अप्रैल): ज़रा अंदाज़ लगाइये  कि जिस शख्स की आमदानी पचास लाख रुपये महीना होगी उसका इनवेस्टमेंट कितना होगा। वो एक दो नहीं कई फैक्ट्रियों या कंपनी का मालिक होना चाहिए... आयेंगे न ऐसे ख्याल दिमाग में। जरूर आयेंगे, और आने भी चाहिए, क्यों कि रकम ही इतनी बड़ी है। मगर जब आप सच्चाई सुनेंगे तो होश फाख्ता हो जायेंगे। जी जनाब, जो शख्स पचास लाख रुपये महीना कमाता है उसकी न तो कोई कंपनी है और न कोई फैक्ट्री और न कोई इनवेस्टमेंट... लेकिन वो कमाता है पचास लाख महीना।

'गल्फ न्यूज़' ने लिखा है दुबई म्युनिसिपैलिटी के इंस्पैक्टर फैसल अल बदियावी ने लोकल पुलिस के साथ प्रोफेशनल भिखारियों के खिलाफ धरपकड़ अभियान चलाया तो एक भिखारी ऐसा मिला जिसकी कमायी हर महीने लगभग दो लाख 70 हज़ार दरहम थी। ऐसे तमाम प्रोफेशनल भिखारी विदेशों से टूरिस्ट वीजा़ पर आते हैं। यहां से अच्छी-खासी कमाई करके कुछ दिनों के लिये अपने देश वापस चले जाते हैं और फिर से दूसरा वीज़ा लेकर चले आते हैं। दुबई पुलिस ने इस साल अभी तक 59 ऐसे प्रोफेशनल भिखारियों को पकड़ कर उनके देश वापस भेजा है जिनकी कमायी लाखों रुपये महीना थी।