आपके कुलीग्स के फोन में प्रैंक एप्स तो नहीं है ? आपकी न्यूड पिक भी कर सकते हैं अपलोड !

नई दिल्ली (26 जनवरी):  तेजी से बढते इस टेक्नोलॉजी के जमाने में ऐसे भी मोबाइल एप आ चुके हैं जिनसे आपको बचाना होगा। क्योंकि मार्केट में अब ऐसे भी एप आ चुके हैं जो कपड़ों के अंदर झांक कर किसी भी न्यूड तस्वीर ले सकता है।ऑनलाइन मार्केट में उपलब्ध इन एप्स से सावधान रहने की बेहद जरूरत है। उदाहरण के तौर पर न्यूड इट और न्यूड स्कैनर ऐसे ही मोबाइल एप हैं। ये एप्स लोगों कपड़ों के आर-पार देख कर उनकी न्यूड फोटो ले सकते है। ऐसे में कोई इन एप्स के यूज से कोई भी व्यक्ति किसी का भी मजाक बना सकता है।

ऐसे मोबाइल एप बॉडी स्कैनिंग टेक्नोलॉजी पर काम करते हैं। ये एप स्मार्टफोन के कैमरे से कनेक्ट होकर लोगों की बॉडी को स्कैन करते हैं। आपको बता दें कि इन एप्स में ऐसी टेक्नोलॉजी दी गई है जिससे किसी भी व्यक्ति की बॉडी स्कैन करने के साथ ही कपडे हटाकर न्यूड तस्वीर फोन की स्क्रीन पर दिखा देते हैं। ऐसे में फोटो खिंचवाने का घबराना लाजिमी है। बॉडी स्कैनर के तौर पर काम करने वाले एप्स को एंड्रॉयड और आईओएस के लिए लाया गया है।

ऐसे मोबाइल एप हकीकत में किसी व्यक्ति को स्कैन कर न्यूड नहीं दिखा सकते, बल्कि एक प्रैंक करने की सुविधा देते हैं। इन एप्स में इंसानों के अलग-अलग बॉडी पार्टस के ढेरों फोटोज पहले से ही मौजूद होते हैं। इनको फोटोज को सामने वाले व्यक्ति की फोटो खींच कर उसमें फिट किया जा सकता है। इसके बाद ऐसे फोटो को देखकर सामने वाला व्यक्ति यही समझता है यह उसकी ही फोटो है, लेकिन वास्तव में ऐसा होता नहीं।