आपके डॉक्युमेंट्स पर भी किसी ने बैंक लोन या पासपोर्ट तो नहीं ले लिया!

नई दिल्ली (30 मार्च): ऐसी खबरें आ रही हैं कुछ जाल साज लोन इत्यादि के नाम पर लोगों से उनके केवाईसी डॉक्युमेंट्स हासिल कर लेते हैं और फिर उनका नाजायज इस्तेमाल करने लगते हैं। इसलिए किसी सूरत में अपना केवाईसी डॉक्यूमेंट किसी दूसरे व्यक्ति को इस्तेमाल करने के लिए न दें। आपके जान पहचान के व्यक्ति द्वारा भी आपके डॉक्यूमेंट का इस्तेमाल फर्जीवाड़ा होता है। पकड़े जाने की स्थिति में सजा के प्रावधान हैं। वहीं दूसरे द्वारा आपके डॉक्यूमेंट का इस्तेमाल आपके लिए भविष्य में बड़ा नुकसान का कारण बन सकता है।


- किसी भी सुविधा को लेने के लिए जब अपने केवाईसी डॉक्यूमेंट का फोटोकॉपी लगाएं तो उस फोटोकॉपी में डिसक्लेमर जरूर डालें। यदि आप मोबाइल सिम के लिए किसी डॉक्यूमेंट का इस्तेमाल कर रहे हैं तो फोटोकॉपी पर साफ-साफ लिखें कि वह फोटोकॉपी किस तारीख को किस कंपनी से मोबाइल सिम लेने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। इस डिसक्लेमर के नीचे ही आप डॉक्यूमेंट को अटेस्ट करें।


- अपने केवाईसी डॉक्यूमेंट को हमेशा अपने सामने फोटोकॉपी करने के लिए दें। फोटोकॉपी की दुकान पर सावधानी बरते कि कहीं कोई आपके डॉक्यूमेंट की अतिरिक्त कॉपी तो नहीं निकाल रहा है। यहां तक यदि फोटोकॉपी कराते वक्त किसी डॉक्यूमेंट की साफ छवि नहीं आती है तो उसे दुकानदार से लेकर नष्ट कर दें जिससे उसका इस्तेमाल किसी अन्य व्यक्ति द्वारा नहीं किया जा सके। आपके केवाईसी डॉक्यूमेंट का कोई व्यक्ति गलत इस्तेमाल कर सकता है । वह आपके डॉक्यूमेंट के आधार पर अपना पासपोर्ट बनवाने के साथ-साथ बैंक अकाउंट खुलवा सकता है या किसी बैंक से लोन ले सकता है। ऐसे मामलों में फर्जी डॉक्यूमेंट से हुई डील के कानून पक्ष में आप जिम्मेदार होंगे। वहीं यदि उसका इस्तेमाल बैंकिग और लोन के लिए किया गया है तो वित्तीय नुकसान भी झेलना पड़ सकता है।