3 साल में बैंकों ने हर घंटे खोए 88, 553 रुपए

नई दिल्ली(25 जुलाई): पिछले तीन साल में साइबर क्राइम के जरिए देश के बैंकों ने हर घंटे 88,553 रुपए खोए हैं। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के जारी आंकड़ों के मुताबिक एक अप्रैल 2014 से 30 जून 2017 तक बैंक ने 252 करोड़ रुपए साइबर क्राइम में गंवा दिए है।

- रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 3 साल में साइबर क्राइम के कुल 46,612 केस दर्ज हुई है।

- आपको बता दें कि हाल में जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2017 के पहले 6 महीनों में हर 10 मिनट पर एक साइबर क्राइम होने की बात सामने आई है।

- यह साल 2016 के आंकड़ों से ज्यादा है जब हर 12 मिनट में एक क्राइम होता था। इसमें जालसाजी और स्कैनिंग जैसे क्राइम शामिल हैं।

- जानकारों के मुताबिक साइबर क्राइम के ज्यादातर मामले डेबिट और क्रेडिट कार्ड फॉर्ड के होते है। आपको बता दें कि वैश्विक साइबर सुरक्षा इंडेक्स में भारत 165 देशों में 23वें स्थान पर है।

- यह इंडेक्स दुनिया के देशों की साइबर सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्धता को दर्शाता है। यह दूसरा वैश्विक साइबर सुरक्षा इंडेक्स संयुक्त राष्ट्र दूरसंचार एजेंसी अंतरराष्ट्रीय दूरसंचार यूनियन (ITU) ने जारी किया है।