वायरल हुई शादी की यह फोटो, टूट गई 152 साल पुरानी परंपरा...

मथुरा (11 अगस्त): ठाकुर बांके बिहारी मंदिर में शादी का आयोजन करके सेवायतों (पुजारी) ने 152 साल से अधिक पुरानी परंपरा तोड़ दी। यह शादी सोमवार को गुपचुप तरीके से हुई। अब इस शादी का फोटो वायरल हो गया है।

1864 में स्‍थापना के बाद पहली बार टूटी है परंपरा... - बांके बिहारी मंदिर में विवाह ना होने की परंपरा है। - बताया जाता है कि मंदिर की स्‍थापना के बाद से यहां शादी नहीं हुई है। - हालांकि, सोमवार को जब मंदिर का पट बंद हुआ, तब जल्‍दबाजी में आंतरिक परिसर को रंग-बिरंगे गुब्‍बारों और फूलों से सजाया गया। - ठाकुर बांके बिहारी की प्रतिमा के सामने चौक में मंडप सजाया गया। - यहां पर वर-वधु के परिजन बैठे और मंदिर के कई गोस्‍वामी इस विवाह समारोह में शामिल हुए। - विवाह के दौरान मंदिर के गर्भगृह में ठाकुर बांके बिहारी की प्रतिमा के सामने वर-वधु ने एक-दूसरे को वरमाला डाली। - इस दौरान कुछ समय तक भगवान का पर्दा भी हटाया गया था। - मंदिर में बांके बिहारी की प्रतिमा के सामने कुछ सेकेंड पर ही पर्दा करने की परंपरा है। - मान्‍यता है कि बांके बिहारी की आंख किसी भक्‍त से लगातार नहीं मिलनी चाहिए। वरना भगवान, भक्‍त के साथ जा सकते हैं।

फोटो वायरल होने के बाद शुरू हुआ विरोध... - मंदिर में विवाह का फोटो वायरल होने के बाद अब कई सेवायत इसका विरोध करने लगे हैं। - बांके बिहारी मंदिर प्रबंध कमिटी के अध्‍यक्ष नंदकिशोर उपमन्‍यु का कहना है कि यह आयोजन मंदिर की सालों पुरानी परंपरा का अपमान है। - मंदिर के प्रबंधक मुनीष शर्मा ने कहा है कि उन्‍होंने इस घटना की सूचना मथुरा मुंसिफ और प्रबंध कमिटी को दे दी है। - अब आगे की जांच और कार्रवाई उन्‍हीं पर निर्भर है। - वहीं, शादी कराने वाले पुजारियों की मानें तो पहले भी मंदिर में शादी हो चुकी हैं। - लेकिन जब उनसे पूछा गया कि इसके पहले कब यहां शादी हुई है तो वो नहीं बता पाए।