बैंकों के नियमों में कल से बड़ा बदलाव, जानें क्या-क्या बदला

नई दिल्ली (26 फरवरी): नोटबंदी के बाद सरकार देशभर में कैशलेस इकोनॉमी को बढ़ावा दे रही है। इसके तहत सरकार जहां डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा दे रही है वहीं नगदी लेनदेन को हतोत्साहित कर रही है। इसी कड़ी में कल यानी 1 मार्च के कई बैंके के नियमों में बड़े बदलाव होने जा रहे हैं।

किस बैंक ने किया क्या बदलाव..?

HDFC बैंक...

- 4 बार तक जमा और निकासी पर कोई चार्ज नहीं

- उसके बाद हर ट्रांजैक्शन पर 150 रुपये और सर्विस चार्ज देना होगा

- होम ब्रांच से हर महीने एक अकाउंट से 2 लाख रुपये तक की निकासी

- इससे ऊपर हर हजार रुपये पर 5 रुपये, मिनिमम चार्ज 150 रुपये

- दूसरी ब्रांच से हर रोज 25 हजार रुपये तक ट्रांजैक्शन फ्री

- सीनियर सिटिजन और बच्चों के अकाउंट पर कोई चार्ज नहीं लगेगा

AXIS बैंक...

- 1 लाख रुपये प्रति महीने से ऊपर के जमा पर या 5वीं निकासी से 150 रुपये या प्रति हजार रुपये पर 5 रुपये चार्ज करने लगता है।

ICICI बैंक...

होम ब्रांच में 4 से ज्यादा कैश ट्रांजैक्शंज पर कम-से-कम 150 रुपये चार्ज किया जाएगा।

ATM पर फिर से चार्ज शुरू...

- नोटबंदी के बाद अब ATM से कैश निकालने की लिमिट रोज 10,000 रुपये और हर हफ्ते 50 हजार रुपये तक कर दी गयी है

-RBI के पुराने नियम के मुताबिक ATM से महीने में 5 बार से ज्यादा ट्रांजैक्शन करने पर 20 रुपये चार्ज लगता था। दिल्ली-NCR, मुंबई, कोलकाता, हैदराबाद और बेंगलुरु में दूसरे बैंक के ATM यूज करने पर 3 ट्रांजैक्शन फ्री, जबकि दूसरे शहरों में 5 ट्रांजैक्शन फ्री थे। ये नियम 1 जनवरी से फिर से लागू हो गए हैं।

जानकारों की माने तो HDFC बैंक ने अपने चार्ज में भारी बदलाव किए हैं, लिहाजा आने वाले समय में प्राइवेट बैंकों के साथ-साथ सरकारी बैंक भी कैश ट्रांजैक्शन को हतोत्साहित करने के लिए नगदी-लेनदेन के चार्ज में बदलाव कर सकती हैं।