ज्यादा रोजगार वाले सेक्टर को सस्ते लोन देने पर सरकार का जोर

नई दिल्ली (20 जनवरी): नोटबंदी के बाद बैंकों में कई लाख करोड़ रुपये जमा हो चुके हैं, लेकिन इस नोटबंदी की वजह से बड़ी तादाद में लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा वहीं भारी तादाद में लोग बेरोजगार भी हो गए हैं।

नोटबंदी के बाद अब सरकार एक तरह जहां इसके कुप्रभाव को जल्द से जल्द खत्म करना चाहती है वहीं लोगों के लिए ज्यादा से ज्यादा रोजगार के अवसर भी मुहैया कराना चाहती है। मसलन सरकार वस्त्र,लेदर, फुटवेयर, ज्वेलरी,कंस्ट्रक्शन उद्योग को ज्यादा से ज्यादा बढ़ावा देना चाहती है। दरअसल इन उद्योंगों में ज्यादा तादाद में लोगों की जरूरत होती है जिससे उन्हें रोजगार मिलती है।

इसी कड़ी में सरकार ने बैंकों को निर्देश दिया है कि वो कम ब्याज दर पर लोगों को रोजगार के लिए लोन दें। साथ ही सरकार ने अपने निर्देश में कहा है कि बैंक ऐसे सेक्टरों को लोन देने में प्रार्थमिकता दे जहां ज्यादा संख्या में लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा हो सके।