2600 करोड़ के लोन फ्रॉड केस में गिरफ्तार हुआ जूम डेवलपर्स का मालिक


नई दिल्ली( 3 मई): इन्फोर्समेंट डायरेक्ट्रेट ने मुंबई की एक फर्म के डायरेक्टर को अरेस्ट किया है। उस पर देश के 25 बैंकों से 2600 करोड़ रुपए के लोन फ्रॉड केस में शामिल होने का आरोप है।


- ईडी PMLA (प्रिवेन्शन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट) के तहत इस मामले की जांच कर रहा है।


- न्यूज एजेंसी के मुताबिक ऑफिशियल्स ने बताया है कि एजेंसी ने विजय एम. चौधरी को PMLA के प्रोविजंस के तहत मंगलवार रात अरेस्ट किया। चौधरी जूम डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड का डायरेक्टर और मेन कंट्रोलर है। ईडी को इस मामले में चौधरी की लंबे वक्त से तलाश थी।


- चौधरी पर आरोप है कि उसकी फर्म और उसके कंट्रोलर्स ने देश के 25 बैंकों के साथ 2650 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी की।


- ईडी ने सीबीआई की एक FIR के आधार पर PMLA के तहत चौधरी पर आपराधिक मामला दर्ज किया है। ईडी इस मामले में जुलाई 2015 में अमेरिका के कैलिफोर्निया में चौधरी की 1280 एकड़ जमीन पहले ही जब्त कर चुकी है।