बैंक कतार में पैदा हुआ बच्चा, नाम रखा 'खजांची नाथ'



नई दिल्ली(6 दिसंबर): नोटबंदी के बाद से लोगों को पैसे निकालने और जमा करने के लिए बैंक-एटीएम का चक्कर लगाना पड़ रहा हैं। पैसे जमा और निकालने के लिए बैंकों के बाहर लंबी-लंबी कतारें लग रही हैं। इन लंबी-लंबी कतारों में अब तक बहुत से लोगों की मौत भी हो चुकी है। लेकिन ऐसे ही कतार में एक बच्चे का जन्म हुआ और उसका नाम खजांची नाथ रखा गया है। 

- कानपुर देहात जिले के झींझक एरिया में हाल ही में बैंक की लाइन में खड़ी एक महिला ने नवजात को जन्म दिया था। 

- नोटबंदी के दर्द के बीच पैदा हुए इस नवजात का नाम खजांची नाथ रखा गया है। रुपये निकालने के लिए घंटों लाइन में खड़ी रहने वाली यह महिला और उसका बच्चा, दोनों ही स्वस्थ्य हैं। 

- बैंक में जन्म लेने वाले इस बच्चे को खजाने के तौर पर देखते हुए उसका नाम खजांची नाथ रखा गया है।

- कानपुर देहात के शाहपुर डेरा में सरदारपुर के माजरा की निवासी सर्वेशा देवी का यह पांचवां बच्चा है। उसका यह नाम उसके चाचा अनिल नाथ ने रखा है। अनिल ने बताया कि नोटबंदी के अभिशाप को झेलते हुए बच्चे का जन्म 2 दिसबंर को हुआ जिसके चलते उसका नाम मैंने खजांची नाथ रखा है।

- शारीरिक रूप से विकलांग बच्चे की मां ने कहा, 'इतने दर्द और परेशानी के बाद जन्म लेने के बाद मेरा बच्चा मेरे लिए ढेर सारी खुशियां और राहत लेकर आया है। इसलिए मैंने भी उस पल को जीवनभर यादगार बनाने के लिए इस नाम पर अपनी मुहर लगा दी।

- दरअसल, कुछ दिन पहले ही घर बनवाने के लिए पहली किस्त निकालने के मकसद से सर्वेशा अपनी सास शशि के साथ पंजाब नैशनल बैंक की झींझक ब्रांच पहुंचीं। वह सुबह 11 बजे से वहां लाइन में लगी। दोपहर करीब 3:45 बजे सर्वेशा काउंटर तक पहुंच सकी। इस बीच उसे प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। वहां मौजूद कुछ महिलाओं ने उसे जमीन पर लिटाया और उसने एक लड़के को जन्म दिया। इसके तुरंत बाद ऐंबुलेंस बुला महिला और उसके नवजात बच्चे को नजदीकी हॉस्पिटल भेजा गया।