रोहिंग्या शरणार्थियों को बजट में स्पेशल फंड दिया जाएगा: अबुल मल वित्त मंत्री बांग्लादेश

नई दिल्ली (6 जून): बांग्लादेश के वित्तमंत्री अबुल मल अब्दुल मुहित ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि अगले वित्त वर्ष (2018-19) में उनकी सरकार  रोहिंग्या शरणार्थियों के पुनर्वासन के लिए 400 करोड़ टका (बांग्लादेशी करंसी) का फंड देगी। गौरतलब है कि ढाका ट्रिब्यून की रिपोर्ट के मुताबिक यह फंड विशेष रूप से रोहिंग्याओं के शेल्टर बनाने के लिए आवंटित किया जाएगा।इतना ही नहीं स्वास्थ्य, सफाई और फूड सप्लाई जैसी चीजों के लिए भी अलग से फंड का आवंटन किया जाएगा। इस प्रस्तावित बजट की घोषणा गुरुवार को संसद में की जाएगी। जानकारी के लिए आपको बता दें कि बांग्लादेश की एग्जिक्युटिव कमिटी ऑफ नैशनल इकॉनमिक काउंसिल ने करीब 10 लाख रोहिंग्या शरणार्थियों के पुनर्वास के लिए 2312 करोड़ टका के बजट को मंजूरी दे दी है।गौरतलब है कि बांग्लादेश ने म्यांमार से आए रोहिंग्या समुदाय के तकरीबन 7 लाख लोगों को अपने यहां पनाह दी है। आपको बता दें कि अपने देश म्यांमार के रखाइन प्रांत में हिंसा भड़कने के बाद रोहिंग्या वहां से भागे थे।